बड़ी राहत: स्कूल फीस जमा करने के लिए दबाव बनाने वाले निजी स्कूलों को भरना होगा जुर्माना, प्रबंधक को हो सकती है जेल

Highlights

- Lockdown के चलते बच्चों की स्कूल फीस नहीं जमा करा पा रहे अभिभावकों को मिली बड़ी राहत

- जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जारी किए सख्त निर्देश

- खंड शिक्षा अधिकारियों को क्षेत्र के निजी स्कूलों पर नजर बनाए रखने के निर्देश

By: lokesh verma

Published: 13 Jul 2020, 12:47 PM IST

गाजियाबाद. लॉकडाउन के चलते बच्चों की स्कूल फीस नहीं जमा करा पा रहे अभिभावकों को बड़ी राहत मिली है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ब्रजभूषण चौधरी ने निर्देश जारी करते हुए कहा है कि कोई भी स्कूल अभिभावकों पर फीस जमा करने के लिए दबाव नहीं बना सकता। उन्होंने कहा है कि फीस के लिए दबाव बनाने वाले स्कलों पर जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ ही स्कूल प्रबधंकों को जेल भी हो सकती है। इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी ने सख्ती दिखाते हुए खंड शिक्षा अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र के निजी स्कूलों पर नजर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें- सहारनपुर में मास्क नहीं लगाने वालों काे अनोखी सजा, सजा पाने वाले बाेले थैंक्यू पुलिस

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ब्रजभूषण चौधरी ने बताया कि निजी स्कूल अभिभावकों को फीस जमा कराने के लिए बाध्य नहीं कर सकते हैं। इसके साथ ही वह किसी बच्चे को फीस जमा नहीं कराने पर ऑनलाइन क्लास से वंचित कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आदेश का उल्लंघन करने वालों पर जुर्माने के साथ 1 वर्ष की सजा हो सकती है। वहीं बच्चे की पढ़ाई का नुकसान होने पर दो वर्ष तक की सजा हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन की शुरुआत से ही कुछ निजी स्कूल अभिभावकों पर फीस जमा करने का दबाव बना रहे हैं। इसको लेकर अभिभावक विरोध भी कर चुके हैं। अभिभावकों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण कुछ लोगों की नौकरी छूट गई है, जिसके चलते वह फीस भरने में असमर्थ हैं। वहीं, निजी स्कूल लगातार फीस जमा करने का दबाव बना रहे हैं। इस बीच एक निजी स्कूल स्कूल और अभिभावकों के बीच फीस को लेकर विवाद भी है। अभिभावकों का आरोप है कि स्कूल फीस जमा करने के लिए दबाव बना रहा है। उनके बच्चों को ऑनलाइन क्लास के लिए लिंक नहीं भेजे जा रहे हैं। बच्चों को ऑनलाइन क्लास से हटाए हुए 20 दिन हो गए हैं। अब अभिभावक दोबारा जिला विद्यालय निरीक्षक से शिकायत करने की बात कह रहे हैं।

यह भी पढ़ें- चीन को सबक सिखाने के लिए 100 एकड़ में बनेगी शानदार टॉय सिटी तो 10 एकड़ में बनेगा आधुनिक चिल्ड्रन पार्क

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned