पूर्व फौजी और उसके परिवार को बेहरमी से था पीटा, वायरल वीडियो पर सीएमओ ने लिया संज्ञान, एसओ सस्पेंड

- पुलिस की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई का वीडियो फौजी ने किया था वायरल
- सीएम योगी से लगाई थी न्याय की गुहार

By: Hariom Dwivedi

Updated: 02 Aug 2020, 02:20 PM IST

गाजीपुर. नगसर थाना क्षेत्र के नूरपुर गांव में पुलिस द्वारा पूर्व फौजी और उसके परिजनों की पिटाई के मामले को सीएम ऑफिस ने संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। इसके बाद डीएम-एसपी फौजी के घर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। गाजीपुर एसपी डॉ. ओमप्रकाश सिंह ने आरोपित एसओ रमेश कुमार को लाइन हाजिर कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर जनपद के प्रभारी मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ला भी नूरपुर जाकर पीड़ित परिवार से मिलेंगे।

26 अगस्त को पुलिस पूर्व सैनिक अजय पांडेय के घर पहुंची थी। उस समय पूर्व सैनिक की मां का तेरहवीं संस्कार हो रहा था। पुलिस ने अपराधी के छिपे होने की बात कही। पुलिसिया कार्रवाई पर पूर्व फौजी और उसके परिजनों ने आपत्ति जताई तो नगसर थाना इंचार्ज रमेश कुमार और उनकी टीम ने पूर्व फौजी और उनके परिजनों को थाने पकड़कर ले गई। पुलिस ने सभी को रातभर लॉकअप में बंद कर जमकर पिटाई की। दूसरे दिन थाने से छूटने के बाद पीड़ितों ने अपनी चोटों की फोटो और वीडियो वायरल कर सीएम से न्याय की गुहार लगाई थी। मामला संज्ञान में आने के बाद शासन ने डीएम को कार्यवाही के निर्देश दिये।

सपा विधायक बोले- ब्राह्मणों पर अत्याचार
जंगीपुर से समाजवादी पार्टी के विधायक वीरेंद्र यादव ने कहा कि कहा कि इस सरकार में लगातार ब्राह्मणों का उत्पीड़न हो रहा है, जबकि उन्हीं की दम से सरकार सत्ता में आई है।

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned