बड़ी संख्या में नक्सलियों ने किया सरेंडर, मिलेगी लाखों रुपए की अनुदान राशि

(Jharkhand News) झारखंड (Jharkhand Government) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Jharkhand CM Hemant Soren) ने इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है (Jharkhand Government Approved Grant Amount For Surrendered naxalites) ...

 

By: Prateek

Published: 02 Jun 2020, 07:08 PM IST

रांची,गिरिडीह: नक्सलवाद देश की बड़ी समस्याओं में से एक है। झारखंड के भी कई जिले नक्सल प्रभावित हैं। आए दिन यहां पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ या नक्सलियों के गिरफ्तार होने की ख़बरें आती रहती हैं। इसी बीच राज्य में लंबे समय से नक्सलवाद को जड़ से खत्म करने का सकारात्मक तरीका अपनाया जा रहा है। जो भी नक्सली उग्रवाद की राह को छोड़कर, सरेंडर करने के बाद आम जिंदगी जीना चाहता है उसे अनुदान राशि प्रदान की जाती है। इन दिनों भी बड़ी संख्या में नक्सलियों ने सरेंडर किया है इनके लिए लाखों की अनुदान राशि देने को स्वीकृति प्रदान की गई है।

 

यह भी पढ़ें: CRPF के जवानों ने पेश की मिसाल, जो मारने को दाग रहा था गोलियां उसकी यूं बचाई जान


सीएम ने दी अनुमति...

बड़ी संख्या में नक्सलियों ने किया सरेंडर, मिलेगी लाखों रुपए की अनुदान राशि

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने विभिन्न नक्सली संगठनों के आत्मसमर्पण (सरेंडर) करने वाले 14 नक्सलियों को प्रत्यार्पण और पुनर्वास नीति के तहत पुनर्वास अनुदान की राशि देने के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है। आत्मसमर्पण करने वाले इन नक्सलियों में तीन को 4-4 लाख रुपए, नौ नक्सलियों को 2-2 लाख रुपए और दो को 1-1 लाख रुपए की राशि का भुगतान पुनर्वास अनुदान के रुप में किया जाएगा। इन नक्सलियों में 11 भाकपा माओवादी, 2 पीएलएफआई और 1 टीपीसी का सदस्य है।

 

यह भी पढ़ें: चंद्रग्रहण का काउंटडाउन शुरु: तीन दिन बाद 5 जून को ये ग्रहण कोरोना संक्रमण पर लगाएगा रोक या फैलाएगा, जानिये यहां

3 को 4—4 लाख...

भाकपा माओवादी के रिजनल कमिटि का सदस्य और खूंटी जिला के अड़की थाना क्षेत्र स्थित बारीगढ़ा का रहनेवाला कुंदन पाहन उर्फ आशीष उर्फ विकास और यही का रहने वाले डिम्बा पाहन उर्फ धीरज के अलावा भाकपा माओवादी के जोनल कमांडर व पलामू में आत्मसमर्पण करने वाले एनुल खां उर्फ गोविंद को प्रत्यार्पण और पुनर्वास नीति के तहत 4-4 लाख रुपए मिलेंगे।

 

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत के लिए दिया 5 I फॉर्मूला, जानें संबोधन की 10 बड़ी बातें

इन्हें मिलेगा 2-2 लाख रुपए का पुनर्वास अनुदान

भाकपा माओवादी के आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में खूंटी जिले के अड़की थाना क्षेत्र के मदहातु का रहने वाले लादु मुंडा उर्फ सानिका मुंडा, खूंटी जिले के अड़की थाना क्षेत्र स्थित गम्हरिया की क्रिस्टोमनी कुमारी, गुमला जिले के पालकोट थाना क्षेत्र स्थित चिरोटांड का दीपक कुजूर, पूर्वी सिंहभूम जिले के गुड़ाबान्दा थाना क्षेत्र स्थित जियान बानबेड़ा का रहने वाले कान्हुराम मुंडा उर्फ अर्जुन उर्फ मंगल (सैक सदस्य), खूंटी जिले के अड़की थाना क्षेत्र स्थित इन्दीपीढ़ी की रहनेवाली व एरिया कमांडर सुनिया कुमारी उर्फ सुनिया मुंडा और दुमका जिले के शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र स्थित बांकीजोर का रहने वाला देवीलाल हांसदा उर्फ छोटा साथी शामिल है। इन सभी को दो लाख रुपए पुनर्वास अनुदान के तहत दिए जाएंगे।


यह भी पढ़ें: White House में मौजूद है खुफिया बंकर, Nuclear weapon भी फेल हो जाता हैं यहां!

इसके अलावा पूर्वी सिंहभूम के मुसाबनी थाना क्षेत्र स्थित विक्रमपुर गुंदाटोला का रहनेवाला सुंदर मुर्मू उर्फ सुंदर सोरेन और पलामू जिला नवडीहा बाजार थाना क्षेत्र स्थित पाल्हे का रहने वाला राजेंद्र भुईयां को प्रत्यार्पण और पुनर्वास नीति के तहत एक-एक लाख रुपए मिलेगा।


झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned