कोरोना गाइड लाइन तथा कर्फ्यू का सख्ती से कराएं पालन : मंत्री सिसौदिया

कोविड प्रभारी मंत्री सिसौदिया ने समीक्षा बैठक में कहा

By: Narendra Kushwah

Updated: 17 Apr 2021, 12:15 AM IST

गुना. मध्यप्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने शुक्रवार को स्थानीय कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कोविड महामारी के दौरान जिले में किए जा रहे उपचार एवं बचाव कार्य की समीक्षा की। जिसमें उन्होंने उपस्थितजन को संबोधित करते हुए कहा कि जिले में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। इसे रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएं। कोरोना गाइड लाइन और कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों की तरफ आने वाली भीड़ से कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है। इसे रोकने के लिए विशेष प्रयास किए जाएं। सरकारी और निजी अस्पतालों में उपचार के लिए पलंगों की संख्या, ऑक्सीजन की उपलब्धता, रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता, कंट्रोल रूम तथा कोरोना कर्फ्यू आदि के संबंध में विस्तार से जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए।
कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम ने बताया कि जिले में रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध है। इन्हें सरकारी अस्पताल के साथ प्राइवेट अस्पतालों को भी दिया जाएगा। ऑक्सीजन की कमी नही है। निरंतर आपूर्ति पर निगरानी रखे हुए हैं। निजी एवं सरकारी अस्पतालों को मिलाकर मौजूदा हालात के अनुसार लोगों का इलाज किया जा रहा है। पॉजिटिव पाए गए बिना लक्षण वाले मरीजों के लिए एकलव्य आवासीय विद्यालय में 100 बिस्तर का क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। शहर क्षेत्र में जहां-जहां कंटेनमेंट एरिया हंै वहां सेनेटाइजशेन कराया जा रहा है। गांव के लोग शहर में न आएं। इसके लिए गेहूं खरीदी के 74 केंद्र खुले हैं। इसके अलावा मंडी में भीड़ न हो इसके लिए एक ट्रैक्टर पर दो व्यक्तियों के आने की अनुमति दिये जाने पर विचार किया जा रहा है।
असलियत चैक करने मंत्री ने लगाया रात 12 बजे फोन
कोविड प्रभारी मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने जिले में स्थापित कोविड कंट्रोल रूम की विश्वसनीयता परखने के लिए रात्रि 12 बजे के बाद फोन लगाया गया। जिसे केवल दो बार ट्रिन-ट्रिन होने के बाद रिसीव कर लिया गया। मंत्री सिसौदिया ने इमरजेंसी बताते हुए खाली बेड की जानकारी ली। कॉल सेंटर ने मरीज को कहां पहुंचाना है, कहां पलंग खाली है सभी जानकारी तत्काल दी। इस बात का उल्लेख मंत्री सिसौदिया ने मीटिंग के दौरान करते हुए कलेक्टर की व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया।
-
निर्णय के प्रमुख बिंदु
विगत दिवस गुना में 109 पॉजिटिव केस पाए गए, जो कि गंभीर स्थिति का परिचायक है।
गांव के लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए कुछ दिनों के लिए शहरों की ओर न आने के लिए रोका जाएगा।
शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में भी नि:शुल्क मास्क वितरण के आदेश मंत्री सिसौदिया द्वारा दिए गए।
स्टेशन पर 24 घंटे निगरानी के साथ थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।
1075 पर कंट्रोल रूम 24 घंटे काम कर रहा है।
ग्रामीण क्षेत्र में होने वाली शादी समारोह, उत्सवों पर रोक लगायी जाएगी।
लोगों की जागरूकता के लिए इलेक्ट्रोनिक एवं प्रिंट मीडिया के सहयोग की अपेक्षा की गई।
शहरी क्षेत्र के अलावा जिले के अन्य अस्पतालों में ऑक्सीमीटर खरीदने की अनुमति दी गयी।
ज्ञापन देने के लिए भीड़ लेकर साथ आने वालों के खिलाफ कार्यवाही करने का निर्णय लिया गया।

Narendra Kushwah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned