scriptnow a fair will be held in Ujjain to Like Gwalior | ग्वालियर की तरह अब उज्जैन में भी लगेगा मेला, सामान खरीदने पर टैक्स में मिलेगी छूट | Patrika News

ग्वालियर की तरह अब उज्जैन में भी लगेगा मेला, सामान खरीदने पर टैक्स में मिलेगी छूट

locationग्वालियरPublished: Jan 15, 2024 01:30:33 pm

Submitted by:

Ashtha Awasthi

उज्जैन। महाकाल लोक के बाद उज्जैन के धार्मिक और व्यावसायिक नक्शे पर लाने की एक ओर बडी पहल मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने की है। उन्होंने शहर में ग्वालियर की तर्ज पर एक महीने का व्यापार मेला शुरू करने की कवायद की है। यह मेला महाशिवरात्रि पर्व से शुरू होगा और गुड़ी पड़वा तक चलेगा। खास बात यह कि मेले में बिकने वाले सामान पर टैक्स में छूट मिलेगी।

018_1581296960.jpg
Gwalior mela

शहर आए मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सिंहस्थ कार्यों की समीक्षा बैठक में ग्वालियर की तरह उज्जैन में भी मेला आयोजित करने की बात कही। उनका कहना था कि यह मेला महाशिवरात्रि पर्व से लेकर गुड़ी पड़वा तक एक महीने तक आयोजित किया जाए। मेले में देेशभर से व्यापारी व संस्थाओं को आमंत्रित किया जाए। मुख्यमंत्री ने मेेले में ग्वालियर की तरह टैक्स में मिलने वाले छूट देने की बात भी कही। इसके लिए अधिकारियों को मेले के लिए जगह चयनित करने को भी कहा। मुख्यमंत्री ने मेले के आयोजन को लेकर संस्कृति विभाग सहित अन्य विभागों से समन्वय कर योजना बनाने की तैयारी शुरू हो गई। संभवत: इसी महाशिवरात्रि से मेले का आयोजन होगा।

आज मेले को लेकर वीसी

शहर में आयोजित होने वाला मेला हर साल आयोजित होगा। इसकी तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. यादव सोमवार अपरान्ह 4.30 बजे वीसी के माध्मय से बैठक लेंगे। जिसमें संस्कृति विभाग के पीएस सहित कलेक्टर, निगमायुक्त व अन्य अधिकारी शामिल होंगे।

धार्मिक के साथ व्यवसाय भी

मुख्यमंत्री डॉ. यादव द्वारा शहर में आयोजित किए जाने वाले मेले के पीछे धार्मिक पर्यटन के साथ ही शहर के व्यवसाय में बढ़ोतरी भी किया जाना है। दरअसल महाशिवरात्रि पर्व पर लाखों श्रद़्धालु शहर आते हैं, वहीं गुड़ी पड़वा पर हिंदू नववर्ष मनाया जाता है। इसी दिन उज्जैन का स्थापना दिवस भी मनाया जाता है। ऐसे में एक महीने तक मेला लगने से देशभर से श्रद्धालु आएंगे तो व्यापार-व्यवसाय में चौगुनी बढ़ोतरी हेागी।

शहर में ग्वालियर की तर्ज पर महाशिवरात्रि पर्व से गुड़ी पड़वा तक एक महीना का मेला अब हर साल लगाया जाएगा। मेले में मिलने वाले सामान को टैक्स में छूट भी रहेगी। मुख्यमंत्रीजी मेले को अंतिम रूप देने के लिए आज वीसी भी करेंगे। इससे धार्मिक पर्यटन के साथ व्यापार-व्यवसाय को भी लाभ मिलेगा। - श्रीराम तिवारी, निदेशक, विक्रम शोद्य पीठ

ट्रेंडिंग वीडियो