scriptएक और झटकाः महंगा हो गया देसी घी, 800 से 900 रुपए बढ़ गए दाम | prices of indigenous ghee increased in madhya pradesh market | Patrika News
ग्वालियर

एक और झटकाः महंगा हो गया देसी घी, 800 से 900 रुपए बढ़ गए दाम

नवरात्र में और आ सकता है उछाल, पितृपक्ष में भी दाम बढ़े होने से व्यापारियों में घबराहट कई बड़े ब्रांड बाजार से हुए गायब…>

ग्वालियरSep 22, 2022 / 12:35 pm

Manish Gite

gwa.png

ग्वालियर। लगातार बढ़ती महंगाई अब देसी घी में भी झटका दे रही है। त्योहारों से पहले ही ब्रांडेड देसी घी के दाम बढ़ गए हैं जबकि नवरात्र के बाद और भी दाम बढ़ने वाले हैं। पितृपक्ष में मंदी के बावजूद देसी घी के दामों में उछाल से आम जनता का बजट गड़बड़ा सकता है।

 

पितृपक्ष में बाजार में थोड़ी मंदी आ जाती है, लेकिन देसी घी का बाजार इन दिनों में भी गर्माया हुआ है। ब्रांडेड देसी घी के 15 किलो वजनी अलग-अलग कंपनियों के टिन 7900 से 9000 रुपए तक जा चुके हैं। पिछले डेढ़ माह में ही देसी घी के टिन पर 800 से 900 रुपए की बढ़ोतरी हो चुकी है, हालांकि एक-दो दिन से इसमें हल्की नरमी देखी जा रही है। फिर भी घी कारोबारियों का मानना है कि शारदीय नवरात्र से मांग निकलने पर दाम कहीं ओर न बढ़ जाएं। देशी घी के टिन में लगातार हो रही बढ़ोतरी से कारोबारी घबराए हुए हैं, जिसकी वजह से इन दिनों कई ब्रांड मार्केट में उपलब्ध ही नहीं हैं।

 

दीपावली तक दाम और न बढ़ जाएं

देसी घी (indigenous ghee) के थोक कारोबारी अश्विनी कुमार सोमानी ने बताया कि बाजार में बिक्री नहीं होने के बावजूद देसी घी के टिन के दाम काफी ऊपर चढ़ चुके हैं। ऐसे में बिक्री पर और भी असर पड़ रहा है। नवरात्र (navratri) के बाद दीपावली (diwali) तक घी और भी महंगा हो सकता है। उन्होंने बताया कि जुलाई माह में 450 रुपए वाला एक लीटर पैक्ड घी अब 475 रुपए तक जा पहुंचा है।

Hindi News/ Gwalior / एक और झटकाः महंगा हो गया देसी घी, 800 से 900 रुपए बढ़ गए दाम

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो