गरीब और जरूरतमंदों के लिए राहतभरी खबर, इस सरकारी मेडिकल स्टोर पर मिलेंगी आधे से भी कम रेट पर दवाएं

गरीब और जरूरतमंदों के लिए राहतभरी खबर, इस सरकारी मेडिकल स्टोर पर मिलेंगी आधे से भी कम रेट पर दवाएं

suchita mishra | Publish: Sep, 04 2018 12:32:01 PM (IST) Hathras, Uttar Pradesh, India

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत हाथरस में हुआ 'जन औषधि केंन्द्र' का उद्घाटन।

हाथरस। स्वास्थ्य संबन्धी तमाम परेशानियों से जूझ रहे लोगों के लिए राहत भरी खबर है। अब हाथरस में ज्यादातर बीमारियों से जुड़ी दवाएं सस्ते दामों पर मिलेंगी। दरअसल प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत जिले में सरकारी मेडिकल स्टोर खोला गया है जिस पर बाजार के मूल्य के करीब एक चौथाई मूल्य पर दवाएं उपलब्ध होंगी। ऐसे में उन लोगों को काफी राहत मिलेगी जो आर्थिक तंगी के चलते दवाएं नहीं खरीद पाते थे या दवा खरीदने के लिए उन्हें कर्ज लेना पड़ता था। प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का शुभारंभ जिलाधिकारी रमाशंकर मौर्य द्वारा किया गया।

जानिए क्या है ‪प्रधानमंत्री जन औषधि योजना
पीएम ‪नरेन्द्र मोदी‬ ने ‪प्रधानमंत्री जन औषधि योजना की घोषणा ‬1 जुलाई 2015 को की थी। योजना के तहत लोगों को जेनरिक दवाओं का वितरण किया जाएगा जो बाजार के मूल्य की अपेक्षा काफी सस्ती हैं। इसके तहत तमाम शहरों में सरकार द्वारा 'जन औषधि केंन्द्र' बनाए जा रहे हैं। बता दें कि जेनरिक दवाएं ब्रांडेड या फार्मा की दवाइयों के बराबर ही प्रभावशाली होती हैं और उनके दाम बाजार के दामों से कम होते हैंं।

 

medicine

60 से 70 फीसदी कम रेटो पर मिलेगी दवाएं
प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत देशभर में 1000 से ज्यादा जन औषधि केंद्र खोले जा रहे हैं। इसी योजना के तहत हाथरस के जिला अस्पताल में 'जन औषधि स्टोर' का शुभारंभ किया गया। इस स्टोर पर आम नागरिकों को बाजार से 60 से 70 फीसदी कम कीमत पर दवाइयां मिल सकेंगी।

इस बारे में सदर विधायक हरिशंकर माहौर ने बताया कि प्रधानमंत्री की योजना का शुभारंभ हाथरस जनपद में जिला अस्पताल में हुआ है। इसकी मुझे बहुत खुशी हो रही है। गरीब लोग दवा लेने जाते हैं और महंगी दवाओं के कारण दवाएं नहीं खरीद पाते हैं इसके कारण या तो वे ज्यादा बीमार हो जाते हैं, कई बार उनकी जान भी चली जाती है। प्रधानमंत्री की इस योजना से उन्हें काफी राहत मिलेगी। इस योजना के तहत 50 रुपए की दवा 11 रुपए की और 110 रुपए की दवा 27 रुपए की मिलेगी। उन्होंने कहा कि मैंने सीएमओ और अस्पताल के सीएमएस से कहा है कि इस केंद्र पर ज्यादा से ज्यादा दवाएं मौजूद रहें।

 

 

Ad Block is Banned