कोरोना से लड़ाई में डॉक्टर्स का साथ दे रहा ये कुत्ता, जानें कैसे कर रहा है मदद

  • कोरोना से जंग जीतने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं डॉक्टर्स
  • एक कुत्ता कोरोना से लड़ाई लड़ने में डॉक्टर्स की बड़ी मदद कर रहा है

By: Piyush Jayjan

Published: 28 Mar 2020, 11:12 AM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) को हराने के लिए दुनियाभर के डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ कड़ी मशक्कत कर रहा है। इस खतरनाक वायरस से संक्रमित मरीजों को ठीक करने के लिए दुनिया के तमाम डॉक्टर्स चौबीसों घंटे काम कर रहे है। कई डॉक्टर्स दो महीनों से अपने घर का मुंह तक नहीं देख सकें।

ऐसे में काम के बढ़ते बोझ की वजह से हॉस्पिटल ( Hospital ) स्टाफ को अवसाद से भी जूझ रहा है। इसी तनाव को दूर करने के लिए प्रशासन की ओर से काम भी किया जा रहा है। अमेरिका से एक फोटो सामने आई है। जिसमें एक डॉक्टर कुत्ते के साथ बैठा हुआ है। ये कोई आम मामूली कुत्ता नहीं है। इस कुत्ते के जरिए डॉक्टर्स को थेरिपी दी जा रही है।

एक ऐसा देश जिसे नहीं सता रहा कोरोना का डर, आम दिनों की तरह सामान्य दिख रहा है कामकाज

वायरल फोटो में दिख रहा कुत्ता इन दिनों अमेरिका ( America ) में उन डॉक्टर्स की मदद कर रहा है जो कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज करने में बिजी हैं। इस कुत्ते का नाम Wynn है। यह कुत्ता हर दिन डॉक्टर्स के साथ टाइम बिताने के मकसद से यहां आता है।

View this post on Instagram

Repost: @thedogist COMMUNITY SUBMISSION: Wynn, Labrador Retriever (1 y/o), Denver, CO • “I am an Emergency Physician. I have been raising Wynn for @ccicanine and she is a year old now. She comes to the ER and stays within our social workers’ inner office, so no one touches her but staff can wash up and have a moment with her. She has saved us because we are very stressed and anxious. Sometimes too busy to be scared. My wish for everyone would be that they not worry about getting a test and just presume themselves positive and consider every surface potentially contaminated and act accordingly. It just means physical distance, wash before and after touching anything. We can find comfort in each other when we know I have your back and you have mine.” @docplusdog

A post shared by Canine Companions (@ccicanine) on

जब डॉक्टर्स ( Doctors ) अपने ब्रेक पर होते हैं तो वो इसके साथ खूब खेलते हैं। ऐसे तनाव भरे माहौल में डॉक्टर्स इस कुत्ते के साथ मस्ती कर काफी अच्छा महसूस करते है। ऐसा माना जाता है कि डॉग थेरिपी ( Dog Therapy ) अवसाद से बचाने में बेहद अहम साबित होती है।

कुछ इस तरह चल रहा है लोगों का वर्क फ्रॉम होम, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है ये मीम्स

अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों में यह थेरेपी काफी प्रचलित है। यहीं नहीं कई हॉस्पिटल में तो डॉक्टर्स के बढ़ते काम को देखते हुए उन्हें एक म्यूजिक रूम भी उपलब्ध करवाया गया है और मेडिटेशन के लिए एक कम रोशनी वाले कमरा भी मुहैया करा रहे है, ताकि अवसाद से बचा जा सकें।

coronavirus
Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned