Video: मौत के बाद Coronavirus पॉजिटिव से जानवरों से भी गंदी बदसलूकी, जांच का आदेश

Watch Video: ऐसा सलूक तो जानवरों के साथ भी नहीं किया जाता है (Coronavirus Positive's Brutal Funeral In Nellore Andhra Pradesh) (Andhra Pradesh News) (Hyderabad News) (Nellore News) (coronavirus in andhra pradesh)

By: Prateek

Published: 10 Jul 2020, 04:10 PM IST

(नेल्लोर): Coronavirus का कहर दुनिया भर में जारी है। अस्पतालों में इलाज में लापरवाही, बदसलूकी, संसाधनों की कमी की खबरें तो सामने आती ही है इसी बीच दिल दहलाने वाला मामला भी सामने आया है। घातक वायरस की वजह से जान गंवाने वालों के साथ आमनवीय व्यवहार किया गया। तीन मरीजों के शव को जेसीबी में पटककर एक साथ ही गाड़ दिया गया। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद मामले का खुलासा हुआ।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे के एनकाउंटर पर उठ रहे सात सवाल, पुलिस को देना होगा इनका जवाब

यह मामला आंध्र प्रदेश के नेल्लारे शहर का है। वीडियो में साफ—साफ देखा जा सकता है कि तीन शवों को एम्बुलेंस से निकल कर पास में खड़ी जेसीबी में डाला जा रहा है और और उस के बाद तीनो शवों को एक साथ ही दफ़न किया जा रहा है। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैै। स्थानीय लोगों में इस घटना के बाद से गुस्सा है।

यह भी पढ़ें: मात्र 5,000 रूपए में मिलती है Post Office Franchise, कमीशन से होगी मोटी कमाई

नेल्लोर के जनसेना पार्टी के एक नेता के.विनोद रेड्डी ने अपने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट करते हुए राज्य सरकार से कोरोना पीड़ितों की मृत्य के बाद उनके शवों के साथ की जा रही बदसलूकी के लिए जवाब माँगा। विनोद रेड्डी ने अपने ट्वीट में कहा की "कोरोना से मरने वालों को दिया जाने वाला अंतिम सम्मान नेल्लोर में ऐसे दिया जाता है? क्या यह जिला मंत्रियों की संस्कृति है?

यह भी पढ़ें: गांधी परिवार के ट्रस्टों पर जांच की बात से भड़की कांग्रेस, पीएल पुनिया ने दिया ये बयान

इस पूरे मामले पर संयुक्त जिला अधिकारी डॉ. विनोद कुमार ने जाँच के आदेश दिए और राजस्व विभाग के अधिकारी हुसैन साहेब को जाँच को बतौर मुख्य जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। इस पुरे मामले की जाँच के बाद लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों पर करवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: विकास के एनकाउंटर के बाद अब उसकी पत्नी रिचा ही राजदार

स्थनीय लोगों का कहना है की कई दिनों से रात को एम्बुलेंस यहां आती है और शव दफन कर चली जाती है। जब की केंद्र एवं राज्य सरकार के दिशानिर्देश अनुसार कोरोना संक्रमितों के शव आबादी वाले क्षेत्र और गांव से कुछ खली स्थानों पर दफ़नाने या दाहसंस्कार किया जाना चाहिए।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned