scriptIf drainage system is not corrected in time there will waterlogging | अगर समय रहते ठोस इंतजाम नहीं किये, तो डूब जाएगा भारत के इस तेज रफ्तार शहर का बड़ा हिस्सा | Patrika News

अगर समय रहते ठोस इंतजाम नहीं किये, तो डूब जाएगा भारत के इस तेज रफ्तार शहर का बड़ा हिस्सा

अगर समय रहते ठीक नहीं किये ड्रेनेज सिस्टम तो शहरवासियों के लिए मुसीबत बन जाएंगे जलभराव वाले ये 203 इलाके।

इंदौर

Published: May 18, 2022 09:38:01 am

इंदौर. इन दिनों मध्य प्रदेश भीषण गर्मी की मार झेल रहा है। आलम ये है कि, सूबे के नौगांव और भिंड जिले का तापमान 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है तो वहीं प्रदेश की आर्थिक नगरी इंदौर का पारा भी 43 डिग्री सेल्सियस के पार जा चुका है। यहां भी लू के साथ साथ चल रहे गर्म हवा के थपेड़ों से जन जीवन अस्त व्यस्त है। इसी बीच मौसम विभाग ने बड़ी भविष्यवाणी करते हुए कहा है कि, जिस तरह गर्मी का सामना करना पड़ रहा है, उसी तरह अधिका बारिश होने की भी संभावनाएं ज्यादा हैं। ऐसे में बात करें इंदौर शहर की तो यहां इस बार भी बारिश आने से पहले ड्रेनेज सिस्टम दुरुस्त करने को लेकर कोई ठोस इंतजाम नहीं किये गए तो बारिश में शहर का बड़ा हिस्सा डूब में आ जाएगा।

News
अगर समय रहते ठोस इंतजाम नहीं किये, तो डूब जाएगा भारत के इस तेज रफ्तार शहर का बड़ा हिस्सा

अगर बात पिछले साल की करें तो इंदौर शहर में हुई पौन इंच बारिश से शहर के अधिकतर इलाके डूब में आ गए थे। इस बार भी शहर में अगर औसत बरसात भी हुई तो शहरवासियों को बारिश के साथ साथ जल भराव के हालातों का भी सामना करना पड़ सकता है। पिछले साल हुए जल भराव को देखते हुए अधिकारियों ने 251 में से 48 स्थानों को तो दुरुस्त कर दिया है, लेकिन अब भी शहर में ऐसे 203 स्थान बाकी हैं जहां जलभराव हो जाता है। इन इलाकों में न तो स्टॉर्म वाटर लाइन डली है और न ही कोई अन्य दुरुस्त इंतजाम है।


हालांकि, शहर में जलभराव की स्थिति बनने की सबसे बड़ी वजह वाटर प्लस सिटी के नाम हुई मनमानी नाला टैपिंग है। निगम ने बिना प्लानिंग नाले टैप किए, जिससे सीवर का पानी तो नदी में जाने से रुक गया, लेकिन बारिश के पानी की निकासी के रास्ते भी बंद हो गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शहर में सिर्फ 18 स्थानों पर स्टॉर्म वाटर लाइन और 6 स्थानों पर रोड बनी है। साथ ही, 22 स्थानों पर लाइन की सफाई की गई है। लेकिन, शहर के चंद्रभागा, कलेक्ट्रेट चौराहा, पलसीकर, सिंगापुर अंडरपास जैसे प्रमुख इलाकों समेत 203 स्थानों के हालात अब भी जस के तस ही बने हैं।

यह भी पढ़ें- रात में युवती को गोली मारकर हत्या कर भाग निकला था सनकी आशिक, सुबह मिली लाश


ये निगम की लापरवाही है- एक्सपर्ट

एक्सपर्ट्स की मानें तो एक बार में 5 से 6 इंच बारिश में अगर शहर डूबे है तो उसे कोई व्यवस्था नहीं बचा सकती, लेकिन अगर सिर्फ आधा इंच बारिश में शहर डूबने लगे तो ये सीधे तौर पर निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल है।। नाला टैपिंग तो की, लेकिन स्टॉर्म वाटर को अनदेखी कर दी। इसपर तो लोगों को नगर निगम पर हर्जाना देने का केस लगाना चाहिए। वहीं, अगर इस स्थित को सुधारने का प्रास भी किया जाए तो ये भी असंभव सी बात है। क्योंकि, बरसाती गतिविधि शुरु होने में अब इतना समय बचा ही नहीं है। कि, बिगड़े हुए 203 इलाकों को दुरुस्त किया जा सके। फिलहाल, किया ये जा सकता है कि, शहर के ऐसे 25 से 30 स्थान चिह्नित किए जाएं, जहां जलभराव से ट्रैफिक जाम या अन्य बड़े नुकसान होते हैं। सिर्फ उन्हीं को दुरुस्त कर लें तो बड़ी मुसीबत टाली जा सकती है।


सुधार नहीं हुआ तो इन इलाकों में भरेगा बारिश का पानी

कलेक्टर चौराहा, चंद्रभागा मेनरोड, जूनी इंदौर ब्रिज के नीचे, बीआरटीएस, मल्हारगंज, गंगवाल बस स्टैंड, गांधी हॉल के पीछे, एमटीएच बस स्टॉप, ब्रिलियंट के सामने, सयाजी के पास, विजयनगर चौराहा, एमआर-9, महालक्ष्मीनगर, पाटनीपुरा चौराहे से साईंद्वार, जंजीरावाला, नरेंद्र हिरवानी गेट, वैशालीनगर, खातीवाला टैंक, खनूजा ग्राउंड, माणिकबाग लाइन आदि इलाकों में इस बार भी बारिश के कारण जलभराव के हालात बनेंगे।

ये 5 चीजें आपके पाचन तंत्र तो बनाएंगी मजबूत, वीडियो में जानें

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबMaharashtra Political Crisis: क्या महाराष्ट्र में दो-तीन दिनों में सरकार बना लेगी बीजेपी? यहां पढ़ें पूरा समीकरणPresidential Election: यशवंत सिन्हा ने भरा नामांकन, राहुल गांधी-शरद पवार समेत विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूदPunjab Budget 2022: 1 जुलाई से फ्री बिजली; यहां पढ़ें पंजाब सरकार के पहले बजट में क्या-क्या है खासपटना विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी, मिला बम बनाने का सामानMumbai News Live Updates: शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे का बड़ा बयान, कहा- ये राजनीति नहीं है, ये अब सर्कस बन गया हैMaharashtra: ईडी के समन पर संजय राउत ने कसा तंज, बोले-ये मुझे रोकने की साजिश, हम बालासाहेब के शिवसैनिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.