जल्द मिलेगा Microsoft में काम करने मौका, Noida में बनने जा रहा 4000 की Capacity का Campus

  • कंपनी ने Hyderabad में 5000 और Bengaluru में 2000 लोगों की क्षमता का बनाया है कैंपस
  • Microsoft Company ग्रेटर नोएडा में 4000 लोगों की क्षमता का कैंपस बनाएगी राज्य सरकार देगी सुविधा

By: Saurabh Sharma

Updated: 30 Jun 2020, 05:34 PM IST

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के एमएसएमई और निवेश एवं निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ( Uttar Pradesh MSME and Investment and Export Promotion Minister Siddharth Nath Singh ) ने कहा कि बिल गेट्स ( Bill Gates ) की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट इंडिया निवेश ( Microsoft India Investment ) करने जा रही है। कंपनी प्रदेश के ग्रेटर नोएडा ( Greater Noida ) में 4000 लोगों की क्षमता का कैंपस बनाएगी। मंत्री सिद्धार्थनाथ ने एक वर्चुअल शो में कहा कि माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ( Microsoft India Investment In Uttar Pradesh ) ने यूपी में विश्वस्तरीय टेक्नोलॉजी हब ( Technology Hub ) बनाने पर सहमति दे दी है।

PayTm, Zomato, Big Basket भी होंगे बैन, जानें क्यों उठ रही है Demand?

हैदराबाद और बेंगलुरु के बाद नोएडा में
माइक्रोसॉफ्ट इंडिया का हैदराबाद और बेंगलुरु में कैंपस है। कंपनी ने हैदराबाद में 5000 और बेंगलुरु में 2000 लोगों की क्षमता का कैंपस बनाया है। कंपनी ग्रेटर नोएडा में 4000 लोगों की क्षमता का कैंपस बनाएगी। माइक्रोसॉफ्ट को कैंपस लगाने के लिए राज्य सरकार रेड कारपेट की सुविधा देगी।

सरकार द्वारा Chinese Apps पर प्रतिबंद के बाद Telecom Companies उठाएंगी बड़ा कदम

कैंपस निर्माण की प्रक्रिया शुरू कराई जाएगी जल्द
माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के एमडी एवं कारपोरेट प्रेसिडेंट, राजीव कुमार के साथ बातचीत में निवेश प्रोत्साहन मंत्री ने कहा कि यूपी में माइक्रोसॉफ्ट का कैंपस स्थापित होने से तकनीकी क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर तेजी से आगे बढ़ेगा। माइक्रोसॉफ्ट की टीम जल्द ही ग्रेटर नोएडा में कैंपस स्थापित करने के लिए जमीन देखेगी। इसके बाद कैंपस निर्माण की प्रक्रिया शुरू कराई जाएगी। नोएडा व ग्रेटर नोएडा में पहले ही टीसीएस, विप्रो जैसी बड़ी आईटी कंपनियां अपना कैंपस बना रही हैं।

Europe और London के मुकाबले India में लोगों को मिल रही है ज्यादा Jobs, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

सभी आवश्यक सुविधाएं दी जाएंगी
चर्चा के दौरान मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जेवर एयरपोर्ट के पास इलेक्ट्रॉनिक सिटी बना रही है। इस सिटी में स्थापित होने वाली इकाइयों को सभी आवश्यक सुविधाएं दी जाएंगी। इस मौके पर अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन एवं अपर मुख्य सचिव (सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम) डॉ़ नवनीत सहगल भी चर्चा में शामिल थे।

Google और Apple Store से हटने के बाद Tiktok ने दी सफाई, China के साथ नहीं कर रहे हैं Data Share

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned