आज का पंचांग - यमराज का दिन है आज , बरतें ये सावधानी, इस अंक से बढ़ाएं शुभता

आज का पंचांग - यमराज का दिन है आज , बरतें ये सावधानी, इस अंक से बढ़ाएं शुभता

deepak deewan | Publish: Sep, 05 2018 08:03:24 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

यमराज का दिन

जबलपुर। ज्योतिर्विद पंडित जनार्दन शुक्ला के अनुसार आज पूर्णा तिथि दशमी दोपहर 11.17 तक उपरंात नंदा तिथि एकादशी रहेगी पूर्णा तिथि दशमी के स्वामी यमराज है। आज के दिन देवदर्शन, देवकार्य, यज्ञ हवन शंाति, तीर्थ दर्शन जैसे कार्य अत्यंत मंगलकारी माने जाते है। दोपहर 12.00 से 1.30.00 बजे तक का समय शुभ कार्य के लिए वर्जित है। आज 5 का अंक शुभ रहेगा।


आज का पंचांग
शुभ विक्रम संवत् : 2075
संवत्सर का नाम : विरोधकृत्
शाके संवत् : 1940
हिजरी संवत् : 1439,
मु.मास: जिल्हेज-24
अयन : दक्षिणायण
ऋतु : वर्षा
मास : श्रावण
पक्ष : शुक्ल
तिथि - पूर्णा तिथि दशमी दोपहर 11.17 तक उपरंात नंदा तिथि एकादशी रहेगी पूर्णा तिथि दशमी के स्वामी यमराज है। आज के दिन देवदर्शन, देवकार्य, यज्ञ हवन शंाति, तीर्थ दर्शन जैसे कार्य अत्यंत मंगलकारी माने जाते है। आज के दिन चंद्रदेव का पूजन तथा खीर का भोग लगाकर प्रसाद वितरण करना धन धान्य हेतु परम कल्याण कारी माना जाता है।
योग- प्रात: 7.22 तक सिध्दि उपरंात ब्यतिपात योग रहेगा दोनो योग सामान्य फलकारी है।
विशिष्ट योग- दशमी तिथि के साथ कुलाकुलगुण नामक दुर्लभ योग रहेगा जो दैनिक जीवन से जुड़े कार्य हेतु शुभ है।
करण- सूर्यादय काल से विष्टि उपरंात वालव तदनंतर कौलव करण का प्रवेश होगा। करण गणना सामान्य है।
नक्षत्र- अधोमुख नक्षत्र आद्र्रा दोपहर 2.50 तक उपरंात चर संज्ञक नक्षत्र पुनर्वसु रहेगा। धनिष्ठा नक्षत्र मे बाग बगीचा, ग्रहशंाति, घुड़सवारी, वाद्ययंत्र निर्माण, देवप्रतिष्ठाायात्रा जैसेे कार्य संपादित किये जा सकते है। इस तरह के मागलिक कार्य आरंम्भ करने के पूर्व ग्रहगोचर दशा पर विचार करना हितकर रहेगा।
शुभ मुहूर्त - आज के दिन प्रसूति स्नान , वाद्यकलारंभ, सेवारंभ, धान्यछेदन, रत् नप्रवाल धारण तथा सेवाकार्य खनिज संपदा जैसे कार्य हेतु दिन शुभ तथा सुखद रहेगा।
श्रेष्ठ चौघडि़ए -आज सूर्योदय प्रात: 6.00 से 9.00 लाभ, अमृत 4.30 से 6.00 लाभ रात्रि 7.30 से 10.30 तक शुभ अमृत की चौघडिय़ा शुभ तथा श्रेष्ट मानी जाती है।
व्रतोत्सव- आज : आज कुला कुल गुण संधि योग रहेगा। तिथि के अनुसार आज श्री गणेश जी का पूजन सुख सौभाग्य कारक है।
चन्द्रमा: मिथुन राशि मे दिवस रात्रि पर्यत तक संचरण करेगा ।

ग्रह राशि नक्षत्र परिवर्तन: सूर्य के सिंह राशि मे गुरू तुला राशि मे तथा शनि धनु राशि शुक्र कन्या राशि मे तथा चंद्र मिथुन राशि के साथ सभी ग्रह यथा राशि पर ििस्थत हेै।
दिशाशूल: आज का दिशाशूल पश्चिम दिशा मे रहता है इस दिशा की ब्यापारिक यात्रा को यथा संभव टालना हितकर है। चंद्रमा का वास पश्चिम दिशा मे है सन्मुख एवं दाहिना चंद्रमा शुभ माना जाता है ।
राहुकाल: दोपहर 12.00 से 1.30.00 बजे तक (शुभ कार्य के लिए वर्जित)


आज जन्म लेने वाले बच्चे
आज :आज जन्मे बालको का नामाक्षर कु, ध,ड़,छ अक्षर से आरंभ कर सकते है। बच्चो की राशि मिथुन तथा राशि स्वामी बुध है। इस राशि वाले जातको का जन्म प्राय: रजतपाद चरण का माना जाता है। इस राशि के जातक प्राय: भाग्यवादी, नैसर्गिक कार्यो के प्रति रूचि रखने वाले, प्रभावशाली, प्रगतिशील , कार्यकुशल, चिंतनशील तथा स्वतंत्र विचार वाले रहते है। स्वतंत्र ब्यवसाय के प्रति लगाव रहता है।

Ad Block is Banned