scriptDr. Ambedkar Memorial Welfare Society Scheduled Castes and Tribes will be honored on Sunday | अनुसूचित जाति व जनजाति के सभी प्रतिनिधियों का रविवार को होगा सम्मान | Patrika News

अनुसूचित जाति व जनजाति के सभी प्रतिनिधियों का रविवार को होगा सम्मान

locationजयपुरPublished: Feb 01, 2024 02:42:30 pm

Submitted by:

Akshita Deora

अनुसूचित जाति की राजस्थान में सबसे बड़ी संस्था डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी राजस्थान एवं अनुसूचित जनजाति संयुक्त संस्थान की ओर से सरकार के कैबिनेट मंत्री, राज्य मंत्री, विधायकों और जन प्रतिनिधियों का सम्मान समारोह 4 फरवरी, रविवार को झालाना स्थित डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसाइटी में आयोजित किया गया है।

aa.jpg

अनुसूचित जाति की राजस्थान में सबसे बड़ी संस्था डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी राजस्थान एवं अनुसूचित जनजाति संयुक्त संस्थान की ओर से सरकार के कैबिनेट मंत्री, राज्य मंत्री, विधायकों और जन प्रतिनिधियों का सम्मान समारोह 4 फरवरी, रविवार को झालाना स्थित डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसाइटी में आयोजित किया गया है। नारायण सिंह सर्किल स्थित पिंक सिटी प्रेस क्लब में बुधवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में समिति के महासचिव जी.एल वर्मा और संगठन सचिव महेश धावनिया ने बताया कि राजस्थान से पहली बार अनुसूचित जाति के लोगों को कई पदों पर पहली बार प्रतिनिधित्व मिला है। राज्य में पहली बार भारतीय जनता पार्टी ने अनुसूचित जाति के डॉ. प्रेम चंद बैरवा को उप मुख्यमंत्री बनाया गया है, जो समाज को गौरवान्वित करता है। वहीं कांग्रेस के द्वारा राजस्थान विधानसभा में पहली बार अनुसूचित जाति के टीकाराम जूली को नेता प्रतिपक्ष बनाया गया है।

जोगेश्वर गर्ग को विधानसभा में मुख्य सचेतक बनाया गया है। इस पद पर भी पहली बार अनुसूचित जाति को प्रतिनिधित्व मिला है। डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी राजस्थान के पूर्व महासचिव अर्जुन राम मेघवाल को केंद्रीय कानून मंत्री बनाया गया था। यह सब राजस्थान में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की एक तिहाई आबादी को विभिन्न राजनीतिक दलों की ओर से दिए गए महत्व को भी प्रदर्शित करता है। समारोह में इनके अलावा मंत्री डॉ. किरोड़ी लाल मीणा, मदनलाल दिलावर, बाबूलाल खराड़ी, हेमन्त मीणा एवं राज्य मंत्री डॉ. मंजू बाघमार (वर्तमान विधानसभा सदस्यों में सबसे अधिक शिक्षित विधायक) सहित अन्य विधायकगणों का भी सम्मान किया जाएगा। यह राजस्थान में इस प्रकार का यह पहला आयोजन है। इस अवसर प्रेस कॉन्फ्रेंस को समिति के वरिष्ठ उपाध्यक्ष बी.एल.बैरवा, भागचंद मीणा, जी.एस.सोमावत, उपाध्यक्ष डॉ. शशि इन्दुलिया व अन्य पदाधिकारियों ने संबोधित किया।

ट्रेंडिंग वीडियो