script राजस्थान के शिक्षा मंत्री के ये बड़े पांच फैसले, जो है चर्चा में | Education Minister in news due to decisions like Hijab, Suryanamaskar | Patrika News

राजस्थान के शिक्षा मंत्री के ये बड़े पांच फैसले, जो है चर्चा में

locationजयपुरPublished: Jan 31, 2024 03:50:45 pm

Submitted by:

rajesh dixit

25 दिन में चर्चित रहे ये 5 बड़े फैसले

हिजाब, सूर्यनमस्कार और बुलडोजर जैसे  बयानों से चर्चा में शिक्षा मंत्री
हिजाब, सूर्यनमस्कार और बुलडोजर जैसे बयानों से चर्चा में शिक्षा मंत्री
राजेश दीक्षित
जयपुर। शिक्षा मंत्री मदन दिलावर अपने कड़े फैसलों से राजस्थान की जनता को चौंका रहे हैं। उनके फैसलों व बयान चर्चा में बने हुए हैं। दिलावर को भाजपा का फायर ब्र्राॅंड नेता भी माना जाता रहा है। अपनी हिंदुत्ववादी छवि के कारण ये हमेशा चर्चा में रहे हैं। इन्होंने छह जनवरी को शिक्षा मंत्री का पदभार संभाला। पिछले 25 दिनों में उनके प्रमुख पांच फैसले व बयान चर्चा में रहे हैं।
हालांकि उन्होंने तबादला नीति को लेकर कोई स्पष्ट संकेत नहीं दिए हैं। मंत्री दिलावर के बयान अक्सर में चर्चा में रहते हैं। इन दिनों उनके हिजाब प्रकरण को लेकर वे चर्चा में हैं।

1-अंग्रेजी स्कूलों का करेंगे रिव्यू
शिक्षा मंत्री ने पदभार संभालने के पहले ही दिन कहा था कि सरकार महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों का रिव्यू करेगी। क्योंकि नई शिक्षा नीति में पहली से पांचवीं कक्षा तक मातृभाषा में शिक्षा देने का प्रावधान किया गया है। वैसे भी जिन स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर ही नहीं हैं तो उनका कोई उपयोग नहीं है। दिलावर ने पाठ्यक्रम को लेकर कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के समय भी सिलेबस में बदलाव किया गया था। ऐसे में हमारी सरकार फिर से सिलेबस का रिव्यू करेगी। पिछली सरकार ने जो अंग्रेजी माध्यम के विद्यालय खोले हंै, हम अंग्रेजी के खिलाफ नहीं हैं लेकिन हिन्दी मातृभाषा है, ऐसे में स्कूलों में संसाधनों को देखते हुए कार्य किया जाएगा।

2-सूर्य नमस्कार

राज्य के सरकारी व निजी स्कूल में 15 फरवरी को सूर्यनमस्कार किया जाएगा। इस दिन सूर्यसप्तमी भी है। इस दिन सूर्य नमस्कार एक साथ करने का रिकॉर्ड भी बनाया जाएगा।


3-हिजाब विवाद
पिछले दिनों हवामहल विधायक बालमुंकदाचार्य ने एक स्कूल में हिजाब पहनकर आई स्कूली छात्राओं के हिजाब पहनने पर आपत्ति जताई थी। इसके विरोध में स्कूली छात्राओं ने विधायक के खिलाफ जयपुर में रास्ता रोक विरोध जताया। यह मामला उछला तो मंत्री किरोड़ीलाल मीणा के साथ ही शिक्षा मंत्री ने भी इस पर बयान दिया। शिक्षा मंत्री का कहना है कि स्कूलों में सभी को ड्रेस कोड में आना चाहिए। वरना कार्रवाई की जाएगी। दिलावर ने यहां तक कहा कि स्कूलों में जो कोई भी ड्रेस कोड का उल्लंधन करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। जिन स्कूलों में सरस्वती मां की मूर्ति या चित्र नहीं होगा, वहां भी कार्रवाई की जाएगी।
4-चला दूंगा बुलडोजर

नागौर जिले के परबतसर में गणतंत्र दिवस समारोह में शराब पीकर आए एक शिक्षक को निलम्बित करने के बाद कहा था, कि शिक्षक मर्यादा में रहें। वे अनैतिक आचरण करते हुुए पाए गए तो उनके खिलाफ कार्रवाई तो होगी ही साथ ही उनकी सम्पत्ति पर बुलडोजर चला दिया जाएगा। जब मैं अखबार में पढ़ता हूं कि स्कूल में बालिका के साथ शिक्षक की ओर से गलत व्यवहार किया गया है, तो बहुत दुख होता है। ऐसे व्यक्ति को निलम्बित करने के बाद बर्खास्त किया जाएगा और उसकी प्रोपर्टी पर बुलडोजर भी चलाऊंगा। चाहे फिर मुझे फांसी हो जाए। जोधपुर, जैसलमेर की तरफ के एक अधिकारी ने एक रबर बैंड की खरीद 500 रुपए प्रति बैंड की दर से की है। इस मामले की जांच शुरू करवा दी है। वादा करता हूं दोषी अधिकारी को छोडूंगा नहीं। सजा दिलवाकर रहूंगा। विभाग में किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं करूंगा।

5- स्कूली शिक्षा पाठ्यक्रम की होगी समीक्षा
स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम की समीक्षा की जाएगी। मातृभूमि की रक्षा के लिए लडऩे वाले महाराणा प्रताप की जगह व्यभिचारी और देश का आक्रांता अकबर कैसे महान हो सकता है। ये इतिहास गलत है। ये लोग शिवाजी महाराज को पहाड़ी चूहा बोलते हैं। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। पाठ्यपुस्तकों की भी समीक्षा की जाएगी। जहां आवश्यकता होगी, वहां सुधार किया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो