प्रदेश में 80 प्रतिशत चल पड़े बड़े उद्योग, जयपुर में संक्रमण ने जकड़ा

वृहद श्रेणी के उद्योगों के फिर शुरु होने में राजधानी की रफ्तार सबसे कम

By: Pankaj Chaturvedi

Published: 03 Jun 2020, 08:00 AM IST

जयपुर. कोरोना लॉकडाउन में लगातार मिल रही रियायतों के बल पर प्रदेश में दस करोड़ रुपए से अधिक निवेश वाले वृहद श्रेणी के उद्योगों का पहिया अब तेजी से घूमने लगा है। प्रदेश में इस श्रेणी के करीब 79 प्रतिशत इकाइयां अब शुरु हो गई हैं, हालांकि राजधानी जयपुर की इकाइयों पर अभी कोरोना संक्रमण का असर साफ दिख रहा है। चौथे लॉकडाउन की समाप्ति के बाद उद्योग विभाग की समीक्षा रिपोर्ट में यह सामने आया है। रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन शुरू होने से पहले 1 जनवरी 2020 को प्रदेश में 547 वृहद श्रेणी की इकाइयां संचालित थीं। चौथा लॉकडाउन खत्म होने पर 1 जून को इनमें से 427 फिर से शुरु हो गई हैं। जिलेवार देखें तो सिर्फ जयपुर ही एकमात्र ऐसा जिला है, जहां इस श्रेणी की इकाइयां खुलने का प्रतिशत सबसे कम सिर्फ 54 फीसदी ही रहा। जानकारों की मानें तो जयपुर में श्रमिकों के पलायन और और लंबा कर्फ्यू रहने का असर इकाइयों के संचालन पर पड़ा है।

कहां कितनी इकाइयां खुलीं

जिला— वृहद इकाइ—— अब संचालित


अजमेर... 14... 13

अलवर... 19....16

बांसवाड़ा.... 7....7

बारां... 6 ....

बाड़मेर...2....2

भरतपुर...2....2

भीलवाड़ा....78.... 53

भिवाडी....138....126

बीकानेर....4....4

बूंदी....3....3

चित्तौडगढ़....18...13

चूरू....1.....1

धौलपुर....2....2

डूंगरपुर...1...1

हनुमानगढ़....2...2

जयपुर....140....76

जालौर...1....1

झालावाड़....2....2

झुंझुनूं.... 1...1

जोधपुर....28....25

कोटा.....11....11

नागौर....3....3

पाली.....6....5

राजसमंद...6...5

सीकर....6....6

सिरोही....8....8

श्रीगंगानगर...5....5

टोंक...4....4

उदयपुर....29....24

इनका कहना है

जयपुर में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते रहे। लगातार कर्फ्यू रहा। इसी का असर है कि इकाइयों के शुरु होन की गति धीमी है।

नितिन गुप्ता, निदेशक—सीआईआई राजस्थान

जयपुर में संक्रमण की दर तो एक कारण है। जिले में बहुतायत वाले हैंडीक्राफ्ट, गारमेंट एक्सपोर्ट के श्रमिकों का पलायन और बाजार में मांग घटने के कारण भी उद्योग संचालित नहीं हो रहे हैं।

नीलेश अग्रवाल, अध्यक्ष—सीतापुरा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन

Pankaj Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned