scriptJaipur Literature Festival 2024 started at Jaipur | Watch जेएलएफ 2024: साहित्य प्रेमियों पर चला शब्दों का जादू, सात समंदर पार से भी जयपुर खींच लाई ललक | Patrika News

Watch जेएलएफ 2024: साहित्य प्रेमियों पर चला शब्दों का जादू, सात समंदर पार से भी जयपुर खींच लाई ललक

locationजयपुरPublished: Feb 01, 2024 04:02:03 pm

Submitted by:

SAVITA VYAS

राजधानी जयपुर के होटल क्लार्क्स आमेर में दुनियाभर के लेखकों और साहित्यप्रेमियों की मौजूदगी में उपमुख्यमंत्री दियाकुमारी ने दीप प्रज्जवलित कर फेस्टिवल के 17वें सीजन की विधिवत शुरुआत की।

Watch जेएलएफ 2024: साहित्य प्रेमियों पर चला शब्दों का जादू, सात समंदर पार से भी जयपुर खींच लाई ललक
जयपुर। जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2024 (Jaipur Literature Festival 2024) का आगाज आज से हो गया है। राजधानी जयपुर के होटल क्लार्क्स आमेर में दुनियाभर के लेखकों और साहित्यप्रेमियों की मौजूदगी में उपमुख्यमंत्री दिया कुमारी ने दीप प्रज्जवलित कर फेस्टिवल के 17वें सीजन की विधिवत शुरुआत की। इस मौके पर जेएलएफ के फाउंडर नमिता गोखले, विलियम डेलरिम्पल और संजोय के रॉय ने उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। उन्होंने फेस्टिवल के 17 साल के सफर के बारे में जानकारी दी। इस दौरान दिया कुमारी ने कहा कि साहित्य के लिहाज से जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल ने जयपुर के नाम को दुनिया के नक्शे में स्थान दिलाया है। शुरुआत से ही मेरा और मेरे परिवार का फेस्टिवल से जुड़ाव रहा।
पांच दिनों तक जुटेंगे दुनियाभर के लेखक
जयपुर में पांच दिनों तक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के लेखक और पुस्तक प्रेमियों का जुटान होने वाला है। आज पहले दिन लेखक, गीतकार और फिल्म निर्देशक गुलजार, मशहूर क्रिकेटर अजय जडेजा और अर्थशास्त्री रघुराम राजन साहित्य से पाठक और दर्शक रू-ब-रू होंगे। ख़ास सेशन 'बाल-ओ-पार: कविता का धड़कता दिल' में गुलजार ने कलम, स्याही का जिक्र छेड़ा तो उनके धड़कते दिल से अल्फाजों की बौछारें शुरू हो गईं। इस सेशन में उर्दू की जानी-मानी कलमकार रक्षंदा जलील और वरिष्ठ साहित्यकार पवन के.वर्मा ने गुलजार के साथ यादगार बातचीत की। गुलजार ने जैसे ही शब्दों का पिटारा खोला तो उन्हें सुनने के लिए फ्रंट लॉन में कतार लग गई।

ट्रेंडिंग वीडियो