पेट्रोल साढ़े सात महीने के उच्चतम स्तर

पेट्रोल साढ़े सात महीने के उच्चतम स्तर

Narendra Solanki | Updated: 15 Jul 2019, 06:43:45 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

पेट्रोल ( petrol ) और डीजल ( diesal ) के दामों में महंगाई ( inflation ) की ऐसी आग लगी है कि वह थमने का नाम ही नहीं ले रही है। राज्य में गुरुवार को पेट्रोल के भाव 77.02 रुपए प्रति लीटर और डीजल के भाव 71.25 रुपए प्रति लीटर की ऊंचाई ( high ) पर पहुंच गए है।

आम बजट ( general budget ) में केंद्र सरकार की ओर से पेट्रोल ( petrol rates ) पर 2.41 रुपए और डीजल ( Diesal Tanker ) पर 2.37 रु पए बढ़ाए गए थे इसके बाद राजस्थान सरकार ( rajasthan goverment ) ने पेट्रोल-डीजल पर चार फीसदी टैक्स ( petrol diesel tax) लगा दिया था। हालांकि इस बारें में राज्य सरकार ( rajasthan goverment ) ने यह तर्क दिया है कि चार फीसदी टैक्स तो पहले भी लगता था, इसको पिछली भाजपा सरकार ने चुनाव जीतने के लिए हटा दिया, लेकिन हमने फिर से इसको लगाकर भाजपा की गलती को सुधारा है।
राज्य सरकार ने बढ़ाया वैट
राज्य सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वैट चार फीसदी ( petrol diesel tax ) तक बढ़ा दिया है, जिसी वजह से पेट्रोल पर अब वैट 26 प्रतिशत से बढ़कर 30 प्रतिशत और डीजल पर 18 प्रतिशत से बढ़कर 22 प्रतिशत हो गया है, जबकि केंद्र सरकार की ओर से पेट्रोल पर 2.41 रुपए और डीजल पर 2.37 रुपए पहले ही बढ़ाए गए है, मतलब इन्हें जोड़कर पेट्रोल की कीमत करीब 4.50 रुपए और डीजल की कीमत करीब 5 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ गई थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार ( price of petrol in international market ) से प्रभावित होने के कारण इनके दामों में रोज दस से बीस पैसे तक की बढ़ोत्तरी हो रही है। आम ग्राहक को इसकी भनक तक नहीं लग रही है कि वे हर दिन बढ़े हुए दाम देकर पेट्रोल खरीद रहे हैं। पिछले एक सप्ताह में पेट्रेाल के दामों में ७ रुपए प्रति लीटर से भी ज्यादा की तेजी आ गई है, वहीं डीजल के दाम भी पांच रुपए प्रति लीटर से भी ज्यादा उछल गए है।

आम आदमी बजट गड़बड़ाया
पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में वृद्धि सीधे आम लोगों के बजट को प्रभावित कर रहा है। बढ़ रहे दाम के कारण ट्रकों का भाड़ा भी बढ़ रहा है, जिसकी वसूली कारोबारी आम उपभोक्ताओं से कर रहे हैं। पेट्रोल, डीजल के दाम बढऩे से यात्री बस वाले भी किराया बढ़ाने के पक्ष में दिखाई पड़ रहे हैं। महंगाई के कारण उसके दाम में रोज हो रही वृद्धि व्यवस्था को प्रभावित कर रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned