scriptRajasthan Election Please Cast Your Vote For Better Future | Rajasthan Election: अब जनता ही 'सर्वेसर्वा', वोट करें और उसे चुनें जो आपकी सुने | Patrika News

Rajasthan Election: अब जनता ही 'सर्वेसर्वा', वोट करें और उसे चुनें जो आपकी सुने

locationजयपुरPublished: Nov 24, 2023 12:24:30 pm

Submitted by:

Umesh Sharma

विधानसभा चुनाव के मतदान का काउंटडाउन शुरू हो गया है। कल यानि शनिवार को सुबह 7 बजे से मतदान शुरू होगा। सत्ता की चाबी अब जनता के हाथ में आ गई है और जनता उसे चुने जो उनकी सुने। इससे पहले शुक्रवार सुबह 7 बजे से मतदान दलों की रवानगी का काम शुरू हो गया। जयपुर शहर की 19 विधानसभा सीटों के लिए तीन जगहों से पोलिंग पार्टियां रवाना हो रही है।

Rajasthan Election: अब जनता ही 'सर्वेसर्वा', वोट करें और उसे चुनें जो आपकी सुने
Rajasthan Election: अब जनता ही 'सर्वेसर्वा', वोट करें और उसे चुनें जो आपकी सुने

विधानसभा चुनाव के मतदान का काउंटडाउन शुरू हो गया है। कल यानि शनिवार को सुबह 7 बजे से मतदान शुरू होगा। सत्ता की चाबी अब जनता के हाथ में आ गई है और जनता उसे चुने जो उनकी सुने। इससे पहले शुक्रवार सुबह 7 बजे से मतदान दलों की रवानगी का काम शुरू हो गया। जयपुर शहर की 19 विधानसभा सीटों के लिए तीन जगहों से पोलिंग पार्टियां रवाना हो रही है।
प्रदेश की 199 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहा है। कुल 51 हजार 507 मतदान केन्द्रों पर 5 करोड़ 26 लाख 90 हजार 146 मतदाता प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इस बार 18 से 30 आयु वर्ग के 1 करोड़ से ज्यादा युवा मतदाता मतदान करेंगे, जिनमें 18-19 आयु वर्ग के 22 लाख 61 हजार 8 नव मतदाता शामिल हैं। प्रदेश में कुल 36 हजार 101 स्थानों पर मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। कुल 10 हजार 501 मतदान केन्द्र शहरी और 41 हजार 6 ग्रामीण क्षेत्र में बनाए गए हैं।

26 हजार से ज्यादा मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग

इस बार कुल 26 हजार 393 मतदान केन्द्रों पर लाइव वेबकास्टिंग करवाई जाएगी। जिला स्तरीय कंट्रोल रूम से इन मतदान केंद्रों पर निगरानी की जाएगी। प्रदेशभर में 65 हजार 277 बैलट यूनिट, 62 हजार 372 कंट्रोल यूनिट और 67 हजार 580 वीवीपैट मशीनें रिजर्व सहित मतदान कार्य में उपयोग ली जाएंगी।

6 हजार 287 माइक्रो आब्जर्वर की ड्यूटी

निष्पक्ष चुनाव के लिए 6 हजार 287 माइक्रो आॅब्जर्वर और 6 हजार 247 सेक्टर अधिकारी मय रिजर्व नियुक्त किए गए हैं। ये मतदान दलों से सतत समन्वय बनाकर किसी भी प्रकार की परेशानी का तत्काल निराकरण करेंगे। सभी सेक्टर अधिकारियों को एक-एक अतिरिक्त ईवीएम मशीन भी दी जाएगी। जो ईवीएम संबंधी खराबी की सूचना होने पर सुधार एवं रिप्लेसमेंट की कार्रवाई करेंगे। ईवीएम संबंधी खराबी के त्वरित निराकरण के लिए हर विधानसभा में दो-दो बेल के इंजीनियर भी मौजूद रहेंगे, जो सूचना प्राप्त होने पर शीघ्र केन्द्रों पर पहुंचेंगे। बेल इंजीनियर के पास भी एक-एक अतिरिक्त ईवीएम मशीन रहेगी।

यह भी पढ़ें
-

Rajasthan Election: पीएम मोदी से आगे निकले सीएम योगी, कांग्रेस में गहलोत ने संभाली कमान

 

2.74 लाख मतदान कर्मी कराएंगे मतदान

प्रदेश में 2 लाख 74 हजार 846 मतदानकर्मी मतदान सम्पन्न कराएंगे। 7 हजार 960 महिला मतदानकर्मी महिला प्रबन्धित मतदान केन्द्रों पर एवं 796 दिव्यांग मतदान कार्मिक दिव्यांग प्रबन्धित मतदान केन्द्रों पर कमान संभालेंगे। सभी मतदान बूथों पर मतदान के लिए व्हील चेयर की व्यवस्था की गई है, जिसका लाभ लेते हुए वहां आने वाले दिव्यांगजन एवं 80 वर्ष की आयु के वरिष्ठ मतदाता अपना मत बिना किसी असुविधा के डाल सकते हैं।

मतदान के लिए 41 हजार 24 वाहन अधिग्रहित

मतदान के लिए कुल 41 हजार 224 बड़े तथा छोटे वाहनों का अधिग्रहण किया गया है, जिससे मतदान दल, सुरक्षा कर्मी, ईवीएम मशीन तथा सेक्टर ऑफिसर के आने-जाने में सुगमता रहे। पुलिस बल तथा मतदान दलों के लिए 17,617 वाहन, सेक्टर ऑफिसर के लिए 20 हजार 844 छोटे यात्री वाहन और ईवीएम मशीन के लाने ले जाने के लिए 2,470 ट्रक/मिनी ट्रक अधिग्रहित किए गए हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो