scriptRajasthan Weather Forecast : Weather patterns will change in Rajasthan, Rain Alert | Weather Forecast : राजस्थान में बदलेगा मौसम का मिजाज, बारिश को लेकर आया अलर्ट | Patrika News

Weather Forecast : राजस्थान में बदलेगा मौसम का मिजाज, बारिश को लेकर आया अलर्ट

locationजयपुरPublished: Dec 26, 2023 08:18:24 pm

Submitted by:

Kamlesh Sharma

Rajasthan Weather Forecast : राजस्थान में साल के आखिरी दिन मौसम का मिजाज बिगड़ेगा। वहीं, नए साल में सर्द हवाओं से ठिठुरन बढ़ेगी। मौसम विभाग ने इसकी चेतावनी दी है। मौसम केन्द्र जयपुर के अनुसार मौसम केन्द्र जयपुर के अनुसार चौबीस घंटे के दौरान न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आएगी।

weather_forecast.jpg

Rajasthan Weather forecast : जयपुर। राजस्थान में साल के आखिरी दिन मौसम का मिजाज बिगड़ेगा। वहीं, नए साल में सर्द हवाओं से ठिठुरन बढ़ेगी। मौसम विभाग ने इसकी चेतावनी दी है। मौसम केन्द्र जयपुर के अनुसार मौसम केन्द्र जयपुर के अनुसार चौबीस घंटे के दौरान न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आएगी। प्रदेश में 30 दिसम्बर तक मौसम शुष्क रहेगा। 31 दिसम्बर से प्रदेश के जयपुर, जोधपुर,कोटा, उदयपुर संभाग सहित अधिकांश जिलों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। इससे तापमान में गिरावट आएगी और सर्दी बढ़ जाएगी। प्रदेश में जनवरी 2024 के पहले ही दिन गिरने से सर्दी बढ़ सकती है।

इधर, घना कोहरा होने के कारण मंगलवार को दिल्ली और अमृतसर आने वाली 13 फ्लाइट्स को जयपुर एयरपोर्ट उतारा गया। मुंबई, दिल्ली, पुणे, बेंगलुरु समेत कई शहरों से यह फ्लाइट्स दिल्ली जा रही थी, जिनको जयपुर एयरपोर्ट पर उतारा गया। इसके कारण जयपुर एयरपोर्ट पर एयर ट्रैफिक भी बढ़ गया। उधर, जयपुर से अहमदाबाद और पंतनगर (उत्तराखंड), इंदौर समेत छह फ्लाइट्स अचानक निरस्त होने पर यात्रियों ने हंगामा कर दिया। इसके अलावा उदयपुर की फ्लाइट जयपुर से रवाना नहीं हो सकी।

इसलिए घना कोहरा
मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा का कहना है कि इस समय मौसम शुष्क बना हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ भी गुजर चुका है, ऐसे में उत्तरी सर्द हवा तो आ रही है, लेकिन इस समय दक्षिण पूर्वी हवाओं का भी असर है, जो सर्द हवाओं को रोक रही है। पूर्वी या दक्षिण पूर्वी दिशाओं की हवा से नमी आ रही है। जिससे घना और मध्यम कोहरे की स्थिति बन रही है। ऐसे में जमीन का सतही तापमान उसके 1 किलोमीटर के ऊपर के तापमान से कम रहता है, लेकिन आर्द्रता 90 प्रतिशत से अधिक होने के कारण तापमान में वृद्धि नहीं होती है।

10 जिले 19 डिग्री से कम
प्रदेश में न्यूनतम तापमान में गिरावट शुरू हो गई है। 19 जिलों में रात का पारा 10 डिग्री से कम दर्ज किया गया है। सबसे कम रात का पारा माउंट आबू में 0 डिग्री दर्ज किया गया। इसके अलावा फतेहपुर में 4.5 और अलवर में 5.5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो