World Wild Life Week - वन्यजीव संरक्षण एवं वन्यजीव अपराध नियंत्रण में युवाओं की अहम भूमिका: मनीष

67वें World Wild Life Week के अवसर पर वन्यजीव संरक्षण एवं पशु कल्याण के लिए कार्यरत वल्र्ड संगठन ने वन्य जीव अपराध नियंत्रण, सहअस्तित्व एवं पशु कल्याण में एनसीसी कैडेट्स की भूमिका विषय पर राज्य स्तरीय वेबिनार का आयोजन किया गया।

By: Rakhi Hajela

Published: 06 Oct 2021, 09:27 PM IST


राज्य स्तरीय वन्यजीव वेबिनार का आयोजन
जयपुर।
67वें World Wild Life Week के अवसर पर वन्यजीव संरक्षण एवं पशु कल्याण के लिए कार्यरत वल्र्ड संगठन ने वन्य जीव अपराध नियंत्रण, सहअस्तित्व एवं पशु कल्याण में एनसीसी कैडेट्स की भूमिका विषय पर राज्य स्तरीय वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार वाइल्ड लाइफ क्राइम कन्ट्रोल ब्यूरो, एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया, जयपुर जन्तुआलय, वन विभाग और एनसीसी राजस्थान के साथ मिलकर किया गया। जिसमें स्टेट एनिमल वेलफेयर बोर्ड के सदस्य एवं वल्र्ड संगठन के निदेशक मनीष सक्सेना, वन विभाग वन संरक्षक वन्यजीव शारदा प्रताप सिंह, वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो के उपनिदेशक अरविन्द कुमार चौरसिया, एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया कीे सहायक सचिव प्राची जैन, वन विभाग राजस्थान के सहायक वन संरक्षक जगदीश चंद्र गुप्ता,वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो के वाइल्ड लाइफ इंस्पेक्टर डॅाक्टर प्रगति और पशु कल्याण कार्यकर्ता शिवानी जैन मुख्य वक्ता रहे।
मनीष सक्सेना ने बतलाया कि वल्र्ड संगठन पिछले २२ साल से युवाओं,एनसीसी कैडेट्स, महिलाओं और किसानों को जोड़कर वन्यजीव अपराध नियंत्रण के विरुद्व देशभर में अभियान चलाया जा रहा है। वन्यजीव अपराध नियंत्रण के लिए वाइल्ड लाइफ रेस्क्यू ग्रुप बनाए गए हैं। इन अपराधों को रोकने में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण है। वन्यजीव अपराधों के विरूद्व सक्रिय रूप से जोडऩे के उद्देश्य से एनसीसी कैडेट्स के लिए राज्य स्तरीय वेबिनार का आयोजन किया गया, जिसमें 100 से भी अधिक प्रतिभागियों को वन्यजीव अपराधों के विरुद्व अभियान की आवश्यकता, शिकार हेतु लक्षित वन्यजीव प्रजातियों, वन्यजीवों का गैरकानूनी व्यापार, वन्यजीव प्रबन्धन तथा मानव. वन्यजीव संघर्ष के बारे में विस्तार से बतलाया। मनीष सक्सेना ने बतलाया कि एनसीसी कैडेट्स पशु कल्याण, वन्यजीव संरक्षण व वन्यजीव अपराध नियंत्रण में अहम भूमिका निभा सकते हैं। वेबिनार मऌे वन्यजीव विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को वन्यजीव संरक्षण तथा वन्यजीव अपराधों के विरुद्व एकजुट होकर सक्रिय भागीदारी का आह्नान किया। वेबिनार में वल्र्ड संगठन की उपनिदेशक नम्रता, लेफ्टिनेंट तमेघ पंवार, लेफ्टिनेंट देवदत्त पटेल, लेफ्टिनेंट अमित कोटिया तथा लेफ्टिनेंट दीपिका ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned