script8 thousand girl students did not get free bicycles in Jaisalmer district | सुनिए सरकार, राजस्थान के इस जिले में हजारों छात्राओं का अभी तक पूरा नहीं हुआ सपना | Patrika News

सुनिए सरकार, राजस्थान के इस जिले में हजारों छात्राओं का अभी तक पूरा नहीं हुआ सपना

locationजैसलमेरPublished: Feb 04, 2024 03:18:12 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

साइकिल नहीं मिलने से बालिकाओं को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

cm_free_cycle_distribution_scheme.jpg
मुख्यमंत्री नि:शुल्क साइकिल वितरण योजना में राजकीय स्कूलों में पढ़ने वाली कक्षा 9 व 10 की छात्राएं लंबे समय से साइकिल मिलने का इंतजार कर रही है। जिले की करीब 8 हजार से अधिक की बालिकाओं को साइकिल मिलने का इंतजार है। जानकारी के अनुसार शिक्षा विभाग का शैक्षणिक सत्र 2023-24 खत्म होने को हैं, लेकिन अभी तक राज्य की सरकारी स्कूलों में कक्षा नौवीं की बालिकाओं को साइकिल नहीं मिली हैं। गौरतलब है कि जिले में सत्र 2022-23 एवं 2023-24 की करीब आठ हजार बालिकाओं को साइकिल मिलनी हैं।
इतनी बालिकाओं को नहीं मिली साइकिल
उधर, प्रदेश भर में दोनों सत्रों की करीब साढ़े सात लाख बालिकाओं को साइकिल का वितरण किया जाना है। फिलहाल बालिकाओं को पूरे सत्र ही पैदल ही स्कूल आना जाना पड़ रहा हैं। साइकिल नहीं मिलने से बालिकाओं को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शैक्षणिक सत्र 2022-23 की छात्राएं कक्षा 9वीं पास कर दसवीं में पहुंच चुकी हैं, लेकिन उन्हें अभी तक साइकिलों का वितरण नहीं किया गया हैं।
इस साल शुरू हुई थी योजना
योजना वर्ष 2007-08 में शुरू की गई थी, तब से बालिकाओं को स्कूल से जोड़े रखने के लिए साइकिल दी जाती हैं। मुख्यमंत्री बालिका साइकिल प्रोत्साहन योजना के तहत हर साल कक्षा 9 की अध्ययनरत बालिका को यह साइकिल दी जाती हैं। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी रामनिवास शर्मा ने बताया कि जल्दी ही साइकिल का वितरण विद्यालयों में करवा दिया जाएगा।
फैक्ट फाइल
- 08 हजार बालिकाओं को मिलनी है साइकिलें
- 02 सत्र से नहीं हुआ नि:शुल्क साइकिल वितरण
- 17 वर्ष पुरानी है साइकिल वितरण योजना

ट्रेंडिंग वीडियो