scriptThree big storms are coming to cause heavy rain, Meteorological Department makes new prediction | सावधानः भारी बारिश कराने के लिए आ रहे हैं तीन बड़े तूफान, मौसम विभाग ने की नई भविष्यवाणी | Patrika News

सावधानः भारी बारिश कराने के लिए आ रहे हैं तीन बड़े तूफान, मौसम विभाग ने की नई भविष्यवाणी

locationजैसलमेरPublished: Jan 15, 2024 04:12:39 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

heavy rain warning प्रदेश में पिछले कई दिनों से लोग घने कोहरे से परेशान हैं। यहां कोहरे की वजह से आम जनता का जीवन बेहाल हो गया है। इस बीच मौसम विभाग ने 3 तूफान आने की भविष्यवाणी कर दी है। विभाग के अनुसार देश में तीन चक्रवाती तूफान के सिस्टम सक्रिय हो रहे हैं।

imd_western_disturbance_alert.jpg
heavy rain warning प्रदेश में पिछले कई दिनों से लोग घने कोहरे से परेशान हैं। यहां कोहरे की वजह से आम जनता का जीवन बेहाल हो गया है। इस बीच मौसम विभाग ने 3 तूफान आने की भविष्यवाणी कर दी है। विभाग के अनुसार देश में तीन चक्रवाती तूफान के सिस्टम सक्रिय हो रहे हैं। ऐसे में देश के कई हिस्सों में भारी बारिश की संभावना बनती नजर आ रही है। इसकी वजह से मध्य महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में मौसम काफी ज्यादा बिगड़ने के आसार हैं। बारिश से लोगों की जीवन पर काफी प्रभाव पड़ेगा।
वहीं दूसरी तरफ पिछले तीन दिनों के दौरान सर्दी के तेवरों में आई नरमी से राहत महसूस कर रहे जैसलमेर की जनता को एक बार फिर कड़ाके की सर्दी ने पलटवार कर घरों में दुबके रहने के लिए विवश कर दिया। रविवार को सुबह छाए घने कोहरे के साथ कंपाने वाली हवाओं के बहने से सर्दी एकदम से बढ़ गई। इससे पहले रात भी पिछली रातों की तुलना में ज्यादा ठंडी महसूस हुई। रविवार को अधिकतम और न्यूनतम दोनों तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने जहां अधिकतम तापमान 21.5 डि. सै. रिकॉर्ड किया वहीं न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री रहा। यह एक दिन पहले क्रमश: 25.6 और 8.9 डिग्री था। इस तरह से अधिकतम तापमान में 4.1 और न्यूनतम में 2.4 डिग्री की गिरावट आई है। इसके साथ सर्दी का अहसास एक बार फिर गहरा गया।
सोमवार की सुबह करीब 7.30 बजे के बाद से चारों तरफ धुंध ही धुंध नजर आई। कोहरा इतना अधिक था कि महज 4 मीटर दूर की वस्तु भी अदृश्य थी। वाहन चालकों को बहुत सावधानी से हैड लाइट जला कर गाड़ियां चलानी पड़ी तो सुबह जल्दी कार्यवश घरों से बाहर निकलने वाले अखबार हॉकर्स, दूधवालों, सफाईकर्मियों व छोटे दुकानदारों आदि को बर्फीली हवाओं ने खूब परेशान किया।
यह भी पढ़ें

सावधानः आ रहा है खतरनाक नया पश्चिमी विक्षोभ, बेहाल करेगा 16, 17, 18 जनवरी को मौसम

उन लोगों ने जगह-जगह अलाव ताप कर स्वयं को राहत दिलाने की कोशिश की। इस समय शहर भ्रमण पर निकले सैलानियों को भी सिर से पांव तक ऊनी कपड़ों में ढंक कर अपनी होटलों से बाहर निकलना पड़ा। सुबह करीब 10.30 बजे तक कोहरा छाया था। इसके बाद निकली सूरज की किरणों ने सर्दी के असर को कम किया। दोपहर में अच्छी धूप खिलने से शहरवासियों को सताने वाली सर्दी से राहत मिली।

ट्रेंडिंग वीडियो