किराए पर फार्मेसी लाइसेंस लेकर चला रहे है दवा की दुकानें, नौसीखिए देते हैं दवाइयां


विभागीय अधिकारियोंं की अनदेखी के कारण नहीं हो रही है कार्रवाई, कस्बे में आधा दर्जन मेडिकल स्टोर बिना फार्मासिस्ट के चल रहे है

बडग़ांव. कस्बे में दवाओं की बिक्री में नियमों को दरकिनार कर मुनाफा कमाने का खेल चल रहा है। मेडिकल स्टोर के संचालन लाइसेंस किसी और के नाम और दुकान चला कोई और रहा हैं। कस्बे में करीब आधा दर्जन ऐसे मेडिकल स्टोर है जो किराये के लाइसेंस पर संचालित हो रहे हैं। यह मेडिकल स्टोर बिना फार्मासिस्ट के चल रहे हैं। वहीं अधिकांश इन मेडिकल स्टोर पर मरीजों का उपचार तक किया जाता हैं। जिसके कारण कई बार मरीजों की जान पर बन आती हैं।
ऐसे समझें नियमों को
बगैर फार्मासिस्ट मेडिकल स्टोर शुरू नहीं किया जा सकता। ऐसे में विभागीय अधिकारीयों की मिलीभगत से कस्बे में करीब आधा दर्जन से अधिक बगैर फार्मासिस्ट की दुकानें चल रही हैं। बिना फार्मासिस्ट मेडिकल स्टोर पर बिना प्रशिक्षण प्राप्त युवक मरीजों को दवा बेच रहे हैं। यह मामला औषधि नियंत्रण विभाग की जानकारी में होने के बावजूद अधिकारीयों ने आज तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है। ऐसे में यह धंधा दिनों दिन फल-फूल रहा हैं।
नहीं हो रही ठोस कार्रवाई
गुजरात राज्य की सीमा पर आए बडगांव समेत क्षेत्र में अवैध मेडिकल स्टोर का धंधा औषधि नियंत्रण विभाग के बूते से बाहर होता नजर आ रहा हैं। विभागीय अधिकारी क्षेत्र में अवैध मेडिकल स्टोर की जांच के नाम पर निरीक्षण के लिए दौरा जरूर करते हैं, लेकिन यह दौरा महज कागजी औपचारिकताओं में सिमट कर रहा जाता हैं।
चल रहे अवैध क्लीनिक
कस्बे में किराए के लाइसेंस पर रहे रही अवैध दवा की दुकानों के साथ-साथ अवैध क्लीनिक भी चला रहे हैं। कस्बे में आग दवाई की दुकान खोल रही है,वहीं पीछे अवैध रूप से खोले गए क्लीनिक पर नीम हकीम द्वारा मरीजों का उपचार भी किया जाता हैं। जहां झोलाछाप बेहतर इलाज के नाम पर केवल ग्रामीणों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं,बल्कि चांदी भी काट रहे हैं।
नहीं डोज की जानकारी
दवाओं के अनधिकृत कारोबारियों को एलोपैथी दवाओं के डोज की किसी भी को जानकारी नहीं हैं, लेकिन यह किसी मेडिकल प्रेक्टिशनर की भांति मनमर्जी से डोज बताते हुए लोगों को उपलब्ध करा रहे हैं। इससे लोगों को इन दवाओं के मनमाने डोज से तात्कालिक लाभ तो मिल रहा है पर साइड इफैक्ट के घेरे में आ रहे हैं। जिससे किडनी एवं लीवर खराब होने तक की बीमारियां पनप रही हैं।

khushal bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned