महिला मोर्चा का महंगाई पर विरोध.... खाली गैस सिलेंडर उठाकर किया प्रदर्शन, सिगड़ी पर बनाई चाय

पेट्रोल, डीजल समेत रसोई गैस की बढ़ती कीमतों को रोकने में नाकाम साबित हो रही केंद्र सरकार के विरोध में शुक्रवार को कांगे्रस महिला मोर्चा की पदाधिकारियों ने विरोध प्रदर्शन किया। महिला मोर्चा पदाधिकारी समूह के रूप में कलक्ट्रेट के समक्ष एकत्र हुई और नारेबाजी की।

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Published: 06 Mar 2021, 09:36 AM IST

जालोर. पेट्रोल, डीजल समेत रसोई गैस की बढ़ती कीमतों को रोकने में नाकाम साबित हो रही केंद्र सरकार के विरोध में शुक्रवार को कांगे्रस महिला मोर्चा की पदाधिकारियों ने विरोध प्रदर्शन किया। महिला मोर्चा पदाधिकारी समूह के रूप में कलक्ट्रेट के समक्ष एकत्र हुई और नारेबाजी की। मोर्चा की पदाधिकारी खाली गैस सिलेंडर भी प्रदर्शन के लिए साथ लेकर पहुंची थीं। खाली सिलेंडर उठाकर ये संकेत पदाधिकारियों ने दिए कि हालात यह है कि अब आम आदमी की जेब खाली है और सिलेंडर के बढ़ते दामों के चलते इसे भराने की स्थिति में जनता नहीं है। दूसरी तरफ सरकार आमजन से जुड़े इस मुद्दे पर जरा भी गंभीर नजर नहीं आ रही है। (एसं)
सिगड़ी पर सियासी चाय
महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष शोभा सुंदेशा के नेतृत्व में एकत्र हुई मोर्च की महिला पदाधिकारियों ने महंगाई के विरोध में नारेबाजी की। महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष शोभा सुंदेशा ने कहा कि हालात यह है कि लगातार बढ़ती महंगाई के चलते लोगों का घर चलाना मुश्किल हो रहा है। एक तरफ ईंधन के दाम बढऩे से लगभग हर वस्तु के दाम बढ़े हैं तो दूसरी तरफ रसोई गैस के दाम भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। मंजू मेघवाल ने कहा कि सीधे तौर पर कोविड संकट से उबरने की कोशिश कर रहे आम आदमी पर यह दोहरी मार है और घर का बजट पूरी तरह से गड़बड़ा रहा है। केंद्र सरकार महंगाई पर लगाम नहीं लगा पा रही है। यही कारण है कि एक तरफ रोजाना पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ रहे हैं तो दूसरी तरफ रसोई गैस सिलेंडर की खरीद भी आम आदमी की पहुंच से दूर हो रहा है।
सौंपा ज्ञापन जताया विरोध
कलक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन के बाद जिलाध्यक्ष शोभा सुंदेश के नेतृत्व में महिला पदाधिकारियों ने एडीएम को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया है कि केंद्र सरकार के तानाशाही रवैये के चलते रसोई गैस के दाम बढ़ते जा रहे हैं। दूसरी तरफ सब्सिडी भी बंद कर दी गई है। सरकार के संरक्षण के चलते रसोई में उपयोग लिया जाने वाला सरसों का तेल, दालें समेत तमाम खाद्य पदार्थों के दाम भी बेलगाम बढ़ते जा रहे हैं। ज्ञापन सौंपने के दौरान सरोज चौधरी, लीला राजपुरोहित, सुष्मिता गर्ग, जुबैदा, रसीदा बानो, नंदा देवी, साजिदा, मंजू मेघवाल समेत कई जने मौजूद रहे।

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned