scriptAs soon as Lord Shri Ram appeared in physical form, people including t | भगवान श्रीराम साक्षात रूप में जैसे ही आए नजर मुख्यमंत्री सहित लोग हाथ जोड़े हो गए खड़े | Patrika News

भगवान श्रीराम साक्षात रूप में जैसे ही आए नजर मुख्यमंत्री सहित लोग हाथ जोड़े हो गए खड़े

locationजांजगीर चंपाPublished: Jan 22, 2024 09:33:07 pm

Submitted by:

Ashish Tiwari

अयोध्या में श्री रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के गौरवशाली क्षण में माता शबरी की भूमि शिवरीनारायण भी राममय हो गया है। त्रेता युग में माता शबरी ने इसी भूमि में श्रीराम को जूठे बेर खिलाए थे। आज शिवरीनारायण की धरती वैसी ही पुलकित है, आज श्रीराम दोबारा अयोध्या धाम में पधारे हैं। इस शुभ क्षण को देखने मुख्यमंत्री विष्णु देव साय शिवरीनारायण पहुंचे। अयोध्या में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का लाइव प्रसारण समारोह कार्यक्रम शिवरीनाराण में आयोजित किया गया।

भगवान श्रीराम साक्षात रूप में जैसे ही आए नजर मुख्यमंत्री सहित लोग हाथ जोड़े हो गए खड़े
karkram me shamail mukymatri
पूरे राष्ट्र और दुनिया के सबसे ऐतिहासिक समारोह श्री रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का अवलोकन करने के लिए मुख्यमंत्री विष्णु देव साय छत्तीसगढ़ की पवित्र भूमि में से एक शिवरीनारायण पहुंचे। इसके साथ ओम माथुर, राज्य गौ सेवाआयोग के पूर्व अध्यक्ष राजेश्री महंत सुंदर दास, सांसद गुहाराम अजगल्ले सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।
रामलला प्राण प्रतिष्ठा पर मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने शिवरीनारायण स्थित भगवान नर नारायण मंदिर में दर्शन किया।
श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर शिवरीनारायण मंदिर में आकर्षक साज-सज्जा की गई है। मंदिर को फूल मालाओं, रंग बिरंगी लाइट्स से सजाया गया है। जहां भगवान श्रीराम ने माता शबरी के जूठे बेर खाए थे। इस जगह पर मुख्यमंत्री प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का अवलोकन किया और अभिभूत हुए। शिवरीनारायण के नागरिकों के लिए अभिभूत करने वाले दो क्षण आए। पहला तो तब जब रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हुई। इस मौके पर मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने अपने संबोधन में कहा कि यह हम सबके लिए यह ऐतिहासिक क्षण है कि हम अयोध्या धाम में प्रभु श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के ऐतिहासिक क्षण के गवाह बने हैं। ।

प्रधानमंत्री के संबोधन में माता शबरी जिक्र आते ही जय श्रीराम, माता शबरी के लगे नारे
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्बोधन में माता शबरी का भी स्मरण किया। उन्होंने जैसे ही मां शबरी का उल्लेख किया और कहा कि माता शबरी को विश्वास था कि उन्हें उनके तप का फल मिलेगा और प्रभु श्री राम आएंगे। यह सुनते ही मां शबरी की भूमि शिवरीनारायण में उपस्थित जनमानस ने जय श्री राम और माता शबरी का जयघोष किया। पूरी सभा इस जयकार से गुंजायमान हो गई।

हम सबके राम व रामो विग्रहवान धर्म: कैलेंडर का हुआ विमोचन


अयोध्या धाम के श्रीराम जन्मभूमि में निर्मित भव्य मंदिर में श्री रामलला के नूतन विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा पर छत्तीसगढ़ शासन के जनसंपर्क विभाग की ओर से श्रीराम के अयोध्या धाम और वनवास काल में छत्तीसगढ़ यात्रा से जुड़ी स्मृतियों पर आधारित कॉफी टेबल बुक हम सबके राम व विशेष कैलेंडर श्रामो विग्रहवान धर्म: का विमोचन मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय के कर कमलों से माता शबरी की भूमि शिवरीनारायण में किया गया।

रामनामियों ने अपना मोर मुकुट पहनाकर सीएम का किया स्वागत


रामनाम को अपने अंग-अंग में हृदय में तथा चेतना में बसाने वाले रामनामी समुदाय के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री विष्णु देव साय को अपना परंपरागत मोर मुकुट पहनाकर अभिनंदन किया। उनके मोर मुकुट में राम नाम लिखा होता है। मुख्यमंत्री के साथ ही उन्होंने ओम माथुर को भी मोर मुकुट पहनाया।

ट्रेंडिंग वीडियो