बदमाश ने वकील से मांगे 1000 रुपए, मना करने पर बोला 30 केस तो चल ही रहे है 31वां भी हो जाएगा

बदमाश ने वकील से मांगे 1000 रुपए, मना करने पर बोला 30 केस तो चल ही रहे है 31वां भी हो जाएगा

Reena Sharma | Publish: Jul, 26 2019 04:51:26 PM (IST) Jhabua, Jhabua, Madhya Pradesh, India

झाबुआ के कुख्यात डकैत मलखान का एक और कारनामा, आष्टा में पेशी के दौरान वारदात

झाबुआ. झाबुआ जिले के कुख्यात डकैत मलखान का एक और कारनामा सामने आया है। उसने बुधवार को आष्टा कोर्ट में पेशी के दौरान अपने वकील से एक हजार रुपए मांगे। जब वकील ने रुपए देने से इनकार किया तो हथकड़ी के कुंदे से उसके सिर पर हमला कर दिया। पुलिस ने उसके खिलाफ हत्या के प्रयास में मामला दर्ज किया है।

must read : एसएसपी बोली : करीबी लोगों को बच्चियों के पास आने का मिल जाता है मौका, इसलिए बढ़ रहे दुष्कर्म

झाबुआ पुलिस द्वारा जून-2017 में गिरफ्तार किए जाने के बाद से डकैत मलखान इंदौर की सेंट्रल जेल में बंद है। बताया जाता है कि लूट के एक मामले में पुलिस उसे आष्टा कोर्ट में पेशी पर ले गई थी। जज के अवकाश पर होने से सुनवाई नहीं हो सकी। ऐसे में कोर्ट रूम में हस्ताक्षर के बाद जब मलखान बाहर निकला तो उसने अपने वकील अर्जुनसिंह सेंधव निवासी बीसूखेड़ी को बुलाकर एक हजार रुपए देने को कहा। वकील ने कारण पूछा तो बोला नाश्ते-पानी के लिए चाहिए।

must read :एसएसपी बोली : करीबी लोगों को बच्चियों के पास आने का मिल जाता है मौका, इसलिए बढ़ रहे दुष्कर्म

अर्जुनसिंह ने रुपए देने से इनकार कर दिया तो बोला 30 केस तो पहले से चल रहे हैं। यदि 31वां केस और हो गया तो भी मुझे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। मैं बाहर आकर तुझे और तेेरे परिवार को देख लूंगा। यह कहते हुए मलखान ने वकील अर्जुनसिंह के सिर पर हथकड़ी के कुंदे से वार कर दिया। इससे उनके सिर से खून बहने लगा। कुछ देर के लिए कोर्ट में अफरा-तफरी मच गई। पुलिस ने आरोपी मलखान के खिलाफ धारा 307 में मामला दर्ज कर लिया है।

must read : kargil vijay diwas : मेरी किडनी में आज भी फंसी है कारगिल युद्ध की दो गोलियां, ये तो मेरी जीत का मेडल है...

कौन है मलखान

मलखान पिता जोसफ अमलियार कल्याणपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम पिपलिया का रहने वाला है। उसके खिलाफ अलग-अलग थाना क्षेत्रों में लूट, डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास के करीब 20 मामले दर्ज हैं। वह इन दिनों सेंट्रल जेल इंदौर में बंद था। डेढ़ महीने पहले ही जमानत पर बाहर आया। इसके बाद वह फिर से अपने गिरोह के साथ सक्रिय हो गया।

must read : kargil vijay diwas : मेरी किडनी में आज भी फंसी है कारगिल युद्ध की दो गोलियां, ये तो मेरी जीत का मेडल है...

कार चुराने में मास्टर

मलखान कार चुराने में मास्टर है। उसके पास से पुलिस ने चोरी की तीन कारें जब्त की थी। इसमें से दो स्कार्पियो थी। वह कार से वारदात करने जाता था। करीब डेढ़ साल पहले आष्टा में उसने किले रामा के पास खातेगांव के बिजली कंपनी के इंजीनियर की स्कार्पियो लूटी ली थी। इसी मामले में उसे बुधवार को आष्टा कोर्ट में पेशी पर ले जाया गया था।

must read : VIDEO : कार्रवाई रोक दो आप जो बोलोगे वो कर देंगे, सुनते ही उपायुक्त ने दोगुनी स्पीड से तोड़ा खतरनाक मकान

जिले में 15 प्रकरण, गुजरात में चार

मलखान के खिलाफ झाबुआ जिले में 15 प्रकरण दर्ज हैं। वहीं सीमावर्ती गुजरात राज्य के दाहोद में 3 और लिमड़ी में एक प्रकरण दर्ज है। पूर्व में पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। 24 अक्टूबर 2016 को सेंट्रल जेल से अंतरिम जमानत पर बाहर आया और फिर से अपने गिरोह के साथ सक्रिय हो गया।

must read : VIDEO : कार्रवाई रोक दो आप जो बोलोगे वो कर देंगे, सुनते ही उपायुक्त ने दोगुनी स्पीड से तोड़ा खतरनाक मकान

झाबुआ पुलिस ने 2017 को किया था गिरफ्तार

झाबुआ पुलिस ने डकैत मलखान को 13 जून 201७ को ग्राम सेमलपाड़ा में एक झोपड़ी से गिरफ्तार किया था। वह वहां छुपकर बैठा था। पुलिस टीम सादे कपड़ों में पहुंची और चारों तरफ से घेराबंदी कर योजनाबद्ध तरीके से उसे गिरफ्तार किया था।

must read : VIDEO : खूंखार तेंदुए ने ग्रामीणों पर बोला हमला, चार लोगों को दबोचा, रेस्क्यू टीम पहुंची

अंतरवेलिया पुलिस चौकी से चुरा ले गया था जब्त कार

11 नवंबर 2016 की रात मलखान ने अपने साथियों के साथ अंतरवेलिया चौकी परिसर में खड़ी जब्त कार पुलिस की नाक के नीचे से चुरा ले गया था। आधी रात को उसने बाकायदा कार को दूसरे वाहन से टोचन कर बाहर निकाला और लेकर चला गया। पहले तो विभागीय रूप से इस बात को छुपाने की कोशिश की गई, लेकिन मामले ने तूल पकड़ा तो फिर चोरी का प्रकरण दर्ज किया। कार वह गुजरात के लिमड़ी शहर से चुराकर लाया था। वहां उसने एक हत्या भी की थी। गुजरात क्राइम ब्रांच की टीम उसकी तलाश में झाबुआ आई थी।

must read : VIDEO : खूंखार तेंदुए ने ग्रामीणों पर बोला हमला, चार लोगों को दबोचा, रेस्क्यू टीम पहुंची

स्कार्पियो दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद भी भाग निकला था

13 फरवरी 2017 को मलखान पुलिस के हाथ आते-आते रह गया। वह अपने तीन साथी निकुल पिता जसवंत कहार (28 ) निवासी नानपुरा वाचीवाड़ सूरत (गुजरात), संदीप (28 ) निवासी नानपुरा वाचीवाड़ सूरत (गुजरात) और कमजी पिता कालू मेड़ा (27) निवासी अमरपुरा थाना कल्याणपुरा के साथ कल्याणपुरा में एक सराफा व्यापारी को लूटने के इरादे से आया था। सफलता नहीं मिली तो काले रंग की स्कार्पियो (एमपी 04 सीएच 7679) में सवार होकर भाग रहा था। तभी डायल-100 वाहन पीछे लग गया। इसी दौरान ग्राम बरखेड़ा में टायर पंचर होने से स्कॉर्पियों सडक़ से नीचे उतरकर खेत में पलट गई। हादसे में मलखान के साथ उसके तीनों साथी घायल हो गए। इसके बावजूद मलखान भाग निकला। वाहन में घायल पड़े बदमाश निकुल, संदीप व कमजी को गिरफ्तार किया था।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned