IGNCA Project assistant recruitment 2018, प्रोजेक्ट असिस्टेंट के पदों पर भर्ती, करें आवेदन

IGNCA Project assistant recruitment 2018, इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स ( IGNCA ) ने प्रोजेक्ट असिस्टेंट के 2 रिक्त पदों

By: युवराज सिंह

Published: 30 Jan 2018, 01:42 PM IST

IGNCA Project assistant recruitment 2018, इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स ( IGNCA ) ने प्रोजेक्ट असिस्टेंट के 2 रिक्त पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक व योग्य उम्मीदवार इन पदों के लिए 31 जनवरी 2018 को आयोजित होने वाले इंटरव्यू में उपस्थित हो सकते हैं। आवेदन के संबंध में पूरी जानकारी जानने के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना लिंक पर क्लिक करें।


इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स ( IGNCA ) में रिक्त पदों का विवरणः
प्रोजेक्ट असिस्टेंट(फील्ड डॉक्यूमेंटेशन एंड कोआर्डिनेशन): 01 पद
प्रोजेक्ट असिस्टेंट(डाटा कन्सोलिडेशन, कोआर्डिनेशन एंड इवेंट मैनेंमेंट): 01 पद


इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स ( IGNCA ) में पात्रता मानदंड व शैक्षिक योग्यताः
- उम्मीदवारों को कम से कम 55% अंकों के साथ पोस्ट ग्रेजुएट होने के साथ ही निम्न विषयों में किसी प्रतिष्ठित अनुसंधान केंद्र / संस्थान से दो सालों का अनुभव होना चाहिए-हिस्ट्री/आर्ट हिस्ट्री/आर्कियोलोजी/।
- एथनोआर्कियोलोजी/एन्थ्रोपोलॉजी/म्युजियोलोजी/जिओलोजी, इसके साथ ही पदों से सम्बंधित विस्तृत शैक्षिक योग्यता की जानकारी के लिए अधिसूचना को देखें।

IGNCA में रिक्त पदों पर आवेदन करने के लिए आयु सीमाः
अधिकतम उम्र सीमा: 35 साल


IGNCA Project assistant के रिक्त पदों पर आवेदन कैसे करें:

इच्छुक और योग्य उम्मीदवार 31 जनवरी 2018 को निम्न वेन्यू पर आयोजित होने वाले इंटरव्यू में उपस्थित हो सकते हैं- इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स, कॉन्फ्रेंस हॉल, सी.वी. मैस, जनपथ, नई दिल्ली - 110 001।

महत्वपूर्ण तिथि: इंटरव्यू की तिथि: 31 जनवरी 2018

 

IGNCA Project assistant recruitment notification 2018:

इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स ( IGNCA ) ने प्रोजेक्ट असिस्टेंट के 2 रिक्त पदों के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

 

परिचयः

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र कलाओं के क्षेत्र में शोध और शैक्षिक अनुसंधान तथा प्रसार का केंद्र है। इसकी स्थापना भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के अधीन एक स्वायत्त निकाय के रूप में सन 1987 में की गई थी। यह केंद्र 'कला' के एक ऐसे व्यापक प्रतिबिंब के रूप में पहचाना जाता है जिसमें पुरातत्त्व से लेकर नृत्य और मानव विज्ञान से लेकर छायाचित्रण तक का, पूरक तथा अनंत दृश्य के रूप में समावेश हो।

Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned