scriptDistrict Election Department ready for voting in Jodhpur | लोकतंत्र के महायज्ञ के लिए जोधपुर जिला निर्वाचन विभाग तैयार, जनता से किया मतदान का आह्वान | Patrika News

लोकतंत्र के महायज्ञ के लिए जोधपुर जिला निर्वाचन विभाग तैयार, जनता से किया मतदान का आह्वान

locationजोधपुरPublished: Nov 24, 2023 01:44:12 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

राजस्थान के लिए कल सबसे अहम दिन है। दरअसल प्रदेश में अगली सरकार के लिए 25 नवंबर (शनिवार) को मतदान होगा। जोधपुर में निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं।

jodhpur_assembly_elections.jpg
राजस्थान के लिए कल सबसे अहम दिन है। दरअसल प्रदेश में अगली सरकार के लिए 25 नवंबर (शनिवार) को मतदान होगा। जोधपुर में निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। जोधपुर जिले की सरदारपुरा, जोधपुर शहर, सूरसागर, लूणी, ओसियां, लोहावट, फलौदी, शेरगढ़, बिलाड़ा और भोपालगढ विधानसभा सीट पर होने वाले मतदान के लिए कुल 467 पैरा मिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है।

जिला निर्वाचन अधिकारी हिमांशु गुप्ता ने बताया कि 10 विधानसभा के क्रिटिकल बूथों पर शांतिपूर्ण मतदान के लिए इलेक्शन कमिशन ने 4 प्रावधान तय किए हैं, जिसमें पैरा मिलिट्री फोर्स की तैनाती, वेब कास्टिंग, वीडियोग्राफी और माइक्रो ऑब्जर्वर की नियुक्ति शामिल है। क्रिटिकल बूथों पर पैरा मिलिट्री फोर्स के साथ वेब कास्टिंग भी जाएगी। हालांकि जिन इलाकों में बेहतर नेट कनेक्टिविटी नहीं है, वहां वेब कास्टिंग, वीडियोग्राफी या माइक्रो ऑब्जर्वर में से किसी एक की तैनाती कर शांतिपूर्ण मतदान कराया जाएगा। क्रिटिकल बूथों की पहचान करने के लिए विभाग ने पुलिस के आलाअधिकारियों के साथ ही अन्य अधिकारियों के साथ मिलकर उम्मीदवार, बूथ की पुरानी हिस्ट्री और अभी जो समीकरण बन रहे हैं, उन पर ध्यान देते हुए ग्राउंड रिपोर्ट तैयार की थी। उन्होंंने बताया कि इस बार 50 प्रतिशत बूथ पर वेब कास्टिंग के निर्देंश दिए गए हैं, ऐसे में 1306 बूथ पर इसकी व्यवस्था की गई है।
यह भी पढ़ें

Rajasthan Chunav: जोधपुर जिले की 10 में से 7 सीटों पर कांग्रेस-भाजपा में सीधी टक्कर, 3 में त्रिकोणीय संघर्ष

उन्होंने बताया कि जिन बूथों की कमान महिला मतदानकर्मियों की सौंपी गई है, उन्हें शनिवार सुबह 5 बजे मौके पर पहुंचना होगा। इसके बाद पोलिंग टीम के द्वारा उन्हें ईवीएम मशीनें सौंपी जाएंगी। इसके बाद मतदान खत्म होने के बाद पोलिंग टीम ही ईवीएम मशीनों को लेकर मतगणना केंद्र पहुंचेगी। सुरक्षा के मद्देनजर बूथ पर सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस ऑफिसर तैनात रहेंगे, जिनके कंधों पर 10 बूथों की कमान होगी। 75 प्रतिशत वोटिंग के सवाल पर गुप्ता ने कहा कि हमने 100 प्रतिशत वोटिंग होने का प्रयास किया है। हमें उम्मीद है कि इस बार जनता बढ़ चढ़कर लोकतंत्र के इस उत्सव में हिस्सा लेगी। उन्होंने राजस्थान पत्रिका के माध्यम से 27 लाख मतदाताओं से वोट के अधिकार का प्रयोग करने का आह्वान किया।

ट्रेंडिंग वीडियो