scriptRajasthan Election 2023: EVM control unit theft case, SO teacher suspended | Rajasthan Election 2023: क्या चोरी हुई EVM कंट्रोल यूनिट से पड़ेगा मतगणना पर असर, यहां जानें पूरी खबर | Patrika News

Rajasthan Election 2023: क्या चोरी हुई EVM कंट्रोल यूनिट से पड़ेगा मतगणना पर असर, यहां जानें पूरी खबर

locationजोधपुरPublished: Dec 01, 2023 08:59:00 am

Submitted by:

Rakesh Mishra

Rajasthan Election 2023: विधानसभा चुनाव के मतदान के दौरान अतिरिक्त चुनावी सामग्री में से ईवीएम की एक कन्ट्रोल यूनिट चोरी होने का मामला जोधपुर के इतिहास में संभवत: पहला है। अब तक ईवीएम मशीन या इससे पहले बैलेट पेपर से चुनाव हुए, लेकिन इसमें भी चुनावी सामग्री चोरी होने का मामला पिछले तीन दशक में रिकॉर्ड में नहीं है

evm_control_unit_theft.jpg
Rajasthan election 2023 विधानसभा चुनाव के मतदान के दौरान अतिरिक्त चुनावी सामग्री में से ईवीएम की एक कन्ट्रोल यूनिट चोरी होने का मामला जोधपुर के इतिहास में संभवत: पहला है। अब तक ईवीएम मशीन या इससे पहले बैलेट पेपर से चुनाव हुए, लेकिन इसमें भी चुनावी सामग्री चोरी होने का मामला पिछले तीन दशक में रिकॉर्ड में नहीं है। हालांकि इसके चोरी होने से मतगणना पर कोई असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि वह वोटिंग में उपयोग नहीं की गई थी।

चुनाव के दिन गायब हुई कंट्रोल यूनिट के मामले को पहले जिला प्रशासन फिर पुलिस ने भी छुपाया। सेक्टर ऑफिसर (एसओ) को आवंटित कार टैक्सी की डिक्की में से चोरी कर ली गई थी। उदयमंदिर थाने में चोरी की एफआइआर दर्ज करवाई गई, लेकिन एसओ व सुरक्षाकर्मी की लापरवाही पर पुलिस भी पर्दा डालती रही। पांच दिन बाद भी कन्ट्रोल यूनिट का सुराग नहीं लग पाया है। उधर, बतौर एसओ शिक्षक को निलम्बित कर होमगार्ड की सेवाएं समाप्त की गईं हैं।
कीर्ति नगर निवासी शिक्षक पंकज जाखड़ पुत्र पोकरराम जाट की 25 नवम्बर को मतदान के दिन बतौर सेक्टर ऑफिसर ड्यूटी थी। मशीनों में तकनीकी खामी होने पर आपातकालीन स्थिति के लिए अतिरिक्त चुनावी सामग्री आवंटित की गई थी। शहर विधानसभा के आरओ चंपालाल जीनगर ने बताया कि एसओ ने कलक्टर कार्यालय परिसर में एडीएम सिटी-प्रथम ऑफिस से अतिरिक्त सामग्री के तौर पर सुबह 4.30 बजे दो ईवीएम, दो वीवीपैट और ईवीएम की दो कन्ट्रोल यूनिट प्राप्त की थी। जिन्हें एसओ को आवंटित कार टैक्सी की डिक्की में रखा गया था। सुरक्षाकर्मी मनोहरदास व चालक अनिल के साथ एसओ की ड्यूटी सेक्टर के पीडब्ल्यूडी ऑफिस और एसपीएस स्कूल में थी। सुबह 7 से शाम छह बजे तक मतदान के दौरान अतिरिक्त चुनावी सामग्री की आवश्यकता नहीं हुई। मतदान समाप्ति के बाद रात नौ बजे एसओ राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर में अतिरिक्त चुनावी सामग्री जमा करवाने पहुंचे, जहां डिक्की संभाली तो ईवीएम की एक कन्ट्रोल यूनिट गायब थी।
लापरवाही पर पुलिस ने भी पर्दा डाला
एसओ की तरफ से 26 नवम्बर की रात चोरी का मामला दर्ज कराया गया था। पुलिस की ओर से जारी होने वाली मॉर्निंग रिपोर्ट में इस मामले को छुपा दिया गया। रिपोर्ट में उसका उल्लेख तक नहीं किया गया। पांच दिन दिन बाद भी कन्ट्रोल यूनिट का पता नहीं लग सका है।
ईवीएम की एक कन्ट्रोल यूनिट चोरी होने के संबंध में एफआइआर दर्ज की गई है। एसओ से रूट चार्ट हासिल किया गया है। इस आधार पर अभय कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर के सीसीटीवी फुटेज की मदद से तलाश के प्रयास कर रहे हैं। अभी तक कन्ट्रोल यूनिट मिली नहीं है।
प्रेमदान रतनू, थानाधिकारी, पुलिस स्टेशन उदयमंदिर

ट्रेंडिंग वीडियो