पुलिस को मिली बड़ा सफलता, असलहा तस्कर गिरोह के सात सदस्यों को किया गिरफ्तार

पुलिस को मिली बड़ा सफलता, असलहा तस्कर गिरोह के सात सदस्यों को किया गिरफ्तार

Akanksha Singh | Publish: Sep, 06 2018 07:06:49 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

असलहा खरीदकर दूसरे प्रदेश में बेचने वाले तस्करों का एक गिरोह पुलिस की गिरफ्त में आया।

कन्नौज पुलिस को उस समय एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब अवैध असलहा खरीदकर दूसरे प्रदेश में बेचने वाले तस्करों का एक गिरोह पुलिस की गिरफ्त में आया। पुलिस ने तस्करी के आरोपी में सात शातिरों को दबोचा है। इनके पास से असलहों का जखीरा सहित चोरी की बाइक भी बारामद हुई है। पकड़े गए बदमाशों से पुलिस अब कुछ और जानकारी जुटा रही है। पुलिस का मानना है कि उनसे कई अहम जानकारी मिल सकती है।

क्वालिटी की वजह से अच्छे दामों में बिकते थे असलहे

एसपी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पिस्टल बेचने का अवैध कारोबार कई युवक लम्बे समय से करते आ रहे थे। एसपी के कस्वा ठठिया क्षेत्र में सात शातिर बदमाशों की होने की सूचना मिली। मुताबिक मुखबिर की सूचना पर सर्विलांस टीम और सदर कोतवाल एके सिंह ने ठठिया कस्वा क्षेत्र में दबिश मारी। सातों बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया । पुलिस ने बचाव करते हुए सातों आरोपियों को मय असलहों के गिरफ्तार किया । उन्होंने बताया कि सातों आरोपी गैर प्रदेशों से असलहे खरीदकर कई जनपदों में बेचा करते थे। असलहों की बनावट इतनी सुन्दर और साफ है कि अच्छे दामों पर बिक्री हो जाते हैं। एक आरोपी की असलहे की दुकान भी थी। नकली असलहे पाए जाने पर दुकान सीज कर दी गई थी और आरोपी को जेल भेजा गया था।

पुलिस गिरफ्त में आये ये शातिर तस्कर

अबैध हथियारों की तस्करी करने वालों में पुलिस ने मौके से पंकज उर्फ योगेश पुत्र बीरेन्द्र कुमार निवासी गली गोदाम थाना भरथना जनपद इटावा व ज्ञान सिंह यादव पुत्र यदुवीर सिंह निवासी पटना थाना एरवा कटरा जनपद औरैया व प्रदीप कुमार गुप्ता पुत्र राधा मोहन निवासी गली गोदाम थाना भरथना जनपद इटावा व मोनू उर्फ गौरव गुप्ता पुत्र प्रदीप गुप्ता निवासी गली गोदाम थाना भरथना इटावा। सुरजीत बेरिया उर्फ लकी पुत्र श्यामबाबू निवासी तिलकसरन थाना तालग्राम जनपद कन्नौज व गोलू बाल्मीकि पुत्र नरेश निवासी सलेमपुर थाना तालग्राम कन्नौज व वीर प्रकाश यादव पुत्र लाल सिंह निवासी भैसाई थाना भरथना जनपद इटावा को गिरफ्तार किया है।

गैंगेस्टर और गुण्डाएक्ट में जा चुके हैं जेल

जिसमें प्रदीप गुप्ता पुत्र राधामोहन निवासी गली गोदाम थाना भरथना, जनपद, औरैया के खिलाफ मु0अ0सं0-113/2007 धारा-5/25 आम्र्स एक्ट थाना बकेबर जनपद इटावा में दर्ज है। इसी तरह अभियुक्त पंकज उर्फ योगेश पोरबाल पुत्र बीरेन्द्र कुमार के खिलाफ भी गैंगेस्टर, गुण्डाएक्ट सहित 364, 307, 504, 506, 304 के तहत बकेवर थाना जनपद इटावा में दर्ज किया गया है। पुलिस की जाॅच के मुताबिक प्रदीप गुप्ता की शस्त्र लाइसेन्स की दुकान है, जिसकी आड़ लेकर वह वह कन्ट्री मेड पिस्टल एवं 32 बोर कारतूस को अबैध तरीके से बेंचता था जिसकी जानकारी होने पर उसका शस्त्र लाइसेन्स निरस्त कर दिया गया है। इससे पहले भी यह 2007 में अबैध शस्त्र रखने और उसको बेंचने के मामले में जेल जा चुका है।

ये असलहे हुए बरामद

एसपी के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों से पांच पिस्टल कन्ट्रीमेड, तीन बाइकें, पांच मैगजीन, नौ जीवित कारतूस और दो खोखा कारतूस बरामद हुआ है। इस मामले के खुलासे में लगी पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक अमरेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा अबैध शस्त्रों की बरामदगी एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर 15 हजार रूपये की धनराशि के रूप में पुरस्कृत करने की बात कही।

Ad Block is Banned