रक्षाबंधन पर वचन देने वाले भाई ने बहन के पति को उतारा मौत के घाट, बहन की पीड़ा सुन हुआ था आग बबूला

-रक्षाबंधन पर बहन की पीड़ा सुन भाई ने बहनोई की कर डाली निर्मम हत्या
-पुलिस ने आरोपित भाई को गिरफ्तार कर आला कत्ल किया बरामद

By: Arvind Kumar Verma

Published: 23 Aug 2021, 05:31 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. बिधनू के गंगापुर कॉलोनी में राखी बांधने आई बहन की प्रताड़ना सुन गुस्साए भाई ने बहनोई की निर्मम हत्या कर डाली। बहन के शरीर पर चोट के निशान देख छोटे भाई की बहनोई से कहासुनी हो गई। इस पर गुस्साए भाई ने गैंती से बहनोई के सिर पर कई बार किए, इससे उसकी मौके पर मौत हो गई। घटना को अंजाम देने के बाद भाई सिर पर हाथ रखकर वहीं बैठ गया। कमरे में आई बहन यह नजारा देख गश खाकर गिर पड़ी। पुलिस ने पहुंचकर आरोपी को हिरासत में लेकर आला कत्ल बरामद किया।

घर आई बहन ने भाई को सुनाई आपबीती

गंगापुर कॉलोनी निवासी रामबाबू ने बताया कि उसने बेटी संध्या की शादी अनुज के साथ 2008 में की थी। आरोप है कि शादी के दो साल बाद उसके सुसराल वाले दहेज के लिए परेशान करने लगे। क्षुब्ध होकर बेटी ने ससुराल वालों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई थी। मगर दोनों पक्षों के बीच समझौता करा दिया गया था। बेटी रविवार को राखी पर मायके आई तो उसके भाई ने शरीर पर चोट के निशान देख लिए। जब भाई ने पूछा तो उसने रोते हुए बताया कि शराब पीकर रोजाना पति उसे मारते हैं। पिटाई से उसका पूरा शरीर काला पड़ गया है। वह बहुत परेशान है। रोते बिलखते बहन की पीड़ा सुनकर भाई आग बबूला हो गया।

भाई बोला बहनोई की हरकतें बर्दाश्त के बाहर थीं

इसके बाद जैसे ही उसका बहनोई अनुज बहन को लेने घर पहुंचा तो भाई बीरू की कहासुनी होने लगी। इस पर बहनोई ने ससुराल में हंगामा काट दिया। तभी गुस्साए बीरू ने बहनोई के सिर पर गैंती से ताबड़तोड़ हमले कर दिए। शोर सुन जब तक परिवार के लोग मौके पर पहुंचे तब तक अनुज की मौत हो चुकी थी। सीओ सदर पवन गौतम ने बताया कि आरोपी बीरू को मौके से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने आला कत्ल गैंती बरामद कर ली है। वहीं आरोपी का कहना है कि उसे बहनोई की हत्या का कोई पछतावा नहीं है। वह उसकी बहन को प्रताड़ित करता था। अब उसकी हरकतें सहन करने लायक नहीं रही थीं। इसीलिए उसने उसकी हत्या कर दी।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned