#corona से टूटा गरीब परिवारों के आवास का सपना, काम रुका तो टूटी उम्मींदें

मार्च महीने तक 2 हजार 943 परिवारों के पक्के मकान का सपना रह गया अधूरा.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 31 Mar 2020, 03:01 PM IST

कटनी. कोरोना संक्रमण से जब पूरे देश में लॉकडाउन है तो इसका असर अब गांव में उन परिवारों पर भी पड़ा है जो कच्चे मकान में रहते हैं और जिनका प्रधानमंत्री आवास योजना में मार्च के महीने तक पक्के आवास में रहने का सपना पूरा होना था। जिलेभर में ऐसे 2943 परिवार हैं जिनकों मार्च माह में 31 तारीख तक पक्के मकान का सपना पूरा हो जाना था, लेकिन कोरोना वायरस ने पानी फेर दिया।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग को इस वित्तीय वर्ष में जिलेभर में 9 हजार 873 आवास निर्माण का लक्ष्य दिया गया है। इसमें से अब तक 6 हजार 930 आवास का निर्माण ही पूरा हो सकता। मार्च महीने में अब तक 2 हजार 943 आवास का निर्माण अधूरा रह गया। अधूरे निर्माण को मार्च माह में पूरा करने के लिए काम पहले सप्ताह में काम की गति को बढ़ा दी गई थी लेकिन कोरोना के कहर ने प्रयासों पर पानी फेर दिया। प्रधानमंत्री आवास योजना में मकान का निर्माण ठप पड़ गया।

जिला पंचायत के सीइओ जगदीश चंद्र गोमे बताते हैं कि कोरोना का असर पीएम आवास योजना में चल रहे मकान निर्माण पर पड़ा है। अब प्राथमिकता लोगों का स्वस्थ रहना है। हालांकि अब वित्तीय वर्ष की डेडलाइन भी 31 मार्च से बढ़ेगी और जब स्थितियां सामान्य होगी तक निर्माण की गति भी बढ़ेगी।

 

यह है आवास निर्माण की स्थिति


ब्लॉक लक्ष्य पूर्ण अधूरे
बड़वारा 2079 1266 813
बहोरीबंद 2068 1247 821
ढीमरखेड़ा 2711 1952 759
कटनी 1279 1037 242
रीठी 948 872 076
विजयराघवगढ़ 788 556 232
-----------------------------------------------------
योग- 9873 6930 2943
-------------------------------------------------------

Corona virus
raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned