सरदार सरोवर बांध - मवेशी भी नहीं पी रहे यह पानी

सरदार सरोवर बांध - मवेशी भी नहीं पी रहे यह पानी
Sardar Sarovar Dam Drinking Water News

deepak deewan | Updated: 23 Sep 2019, 11:41:42 AM (IST) Khandwa, Khandwa, Madhya Pradesh, India

मवेशी भी नहीं पी रहे यह पानी

अंजड़. सरदार सरोवर से डूब की जद में आए कई गांवों में घुसे पानी की निकासी जल्दी होगी, इसकी संभावना कम ही है। ऐसे में जलजमाव में घरों का मलबा एवं अन्य गंदगी सडऩे के बाद उसकी बदबू से क्षेत्र में महामारी के रूप में फैलने की आशंका बलवती होती जा रही है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो यह दुर्गंध पूरे क्षेत्र को चपेट में ले सकती है। मलबे के साथ साथ ठहरा हुआ पानी भी एक समय के बाद दुर्गंध पैदा करेगा। इससे स्थिति और भयावह होने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता। मौसम की बेरुखी से मौसमजन्य बीमारियों के मरीजों की संख्या पहले ही बढ़ी हुई है। स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में दिनोंदिन मरीजों की संख्या में इजाफा होने की खबरें प्राप्त हो रही हैं। वायरल के प्रभाव से आमजन पहले ही
परेशान है।


महामारी की आशंका

नर्मदा बचाओ आंदोलन कार्यकर्ताओं की मानें तो पानी का ठहराव महामारी की प्रथम सीढ़ी हैं। इसकी दुर्गंध से वायु प्रदूषण भी दूषित होगा और कई लोग इसकी चपेट में आएगें। सरकारों का भविष्य की इस आशंका की ओर कोई ध्यान नही हैं। स्वास्थ्य को लेकर केंद्र एवं प्रदेश सरकार निश्चिंत नजर आ रही हैं और कोई ठोस कदम उठाती नही दिख रही है, जो घातक सिद्ध होगा। पर्यावरण एवं स्वास्थ्य की दृष्टि से ये जलजमाव अभी से गंभीर स्थिति बना रहा है। मवेशी तक पानी पीने से दूर भाग रहे है। मच्छरों की भरमार से मलेरिया पैर पसारने लग गया है।


अभी से चेतें विभाग
पर्यावरण तथा स्वास्थ्य मंत्रालय कोई कारगर कदम उठाते नहीं दिख रहे हैं। जबकि जलजमाव के दुष्परिणाम अभी से दिखने लग गए हैं। यही स्थिति रही तो हालात बेकाबू होते देर नहीं लगेगी।
-मेधा पाटकर, नैत्री नबआं

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned