script11 councilors signed no-confidence motion remove Speaker | CG Politics: नगर पालिका अध्यक्ष को हटाने 11 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पर किया हस्ताक्षर, लगाए कई गंभीर आरोप | Patrika News

CG Politics: नगर पालिका अध्यक्ष को हटाने 11 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पर किया हस्ताक्षर, लगाए कई गंभीर आरोप

locationकोरबाPublished: Dec 09, 2023 02:06:33 pm

Chhattisgarh Political Trends: इस पर पालिक के 11 पार्षदों का हस्ताक्षर है। चर्चा के दौरान भाजपा पार्षद अरुणीश तिवारी ने बताया कि पालिक अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। कोरबा जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर पालिका की सामान्य सभा बुलाने की मांग गई है। उन्होंने दावा कि पालिका अध्यक्ष ने पार्षदों का विश्वास खो दिया है।

korba.jpg
Chhattisgarh News: इस पर पालिक के 11 पार्षदों का हस्ताक्षर है। चर्चा के दौरान भाजपा पार्षद अरुणीश तिवारी ने बताया कि पालिक अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है।

कोरबा जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर पालिका की सामान्य सभा बुलाने की मांग गई है। उन्होंने दावा कि पालिका अध्यक्ष ने पार्षदों का विश्वास खो दिया है। तिवारी ने आरोप लगाया कि तीन साल से अधिक का समय गुजर गया है। लेकिन वार्डों में विकास के कार्य नहीं हुए हैं। कांग्रेस पार्षदों वार्डों में कुछ विकास कार्य किए गए हैं। जबकि भाजपा पार्षदों के वार्डों में काम नहीं हुए है।
यह भी पढ़ें

छत्तीसगढ़ के ये विधायक बनेंगे मंत्री! इन 12 चेहरों को मिल सकती है ये जिम्मेदारी, देखिए नाम



पालिका में विपक्ष के नेता अनुप यादव ने आरोप लगाया कि दीपका पालिका में भष्टाचार का बोलबाला है। बिना रिश्वत कोई काम नहीं हो रहा है। इससे क्षेत्र के लोग परेशान हैं। यादव ने बताया कि प्रशासन से हफ्तेभर में पालिका परिषद दीपका की सामान्य बुलाने की मांग की गई है। भाजपा की ओर से पेश किए अविश्वास प्रस्ताव पर 11 पार्षदों के हस्ताक्षर हैं। इसमें अनुप यादव, कुसुमलता कैवर्त, गंगोत्री राठौर, संगीता साहू, आशा देवी, दीपक कुमार गिलहरे, रोहित जायसवाल, विकास सोनी और सुशील गुप्ता शामिल है।
15 पार्षदों का समर्थन जरूरी
दीपका पालिका परिषद में 21 वार्ड है। अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के लिए सामान्य सभा की कार्रवाई में उपस्थित कुल सदस्यों का दो तिहाई बहुमत होना जरुरी है। यानी की सामान्य सभा की कार्रवाई में 21 पार्षद शामिल होते हैं तो अध्यक्ष को पद सेे हटाने के लिए 15 पार्षदों का समर्थन जरुरी है।
यह भी पढ़ें

बड़ी खबर : बीजेपी नेता की नक्सलियों ने की हत्या, परचा फेंककर इन नेताओं को दी धमकी, आधे कपड़ों में मिली लाश...

प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही राजनीतिक उठापटक शुरू हो गई है। नगर निगम कोरबा के बाद भारतीय जनता पार्टी ने दीपका पालिक अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है। जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर सामान्य सभा बुलाने की मांग की है।

ट्रेंडिंग वीडियो