OMG ! कोटा में जन्मी ऐसी बालिका जिसे देख परिजनों की आंखें फटी की फटी रह गई...

Zuber Khan

Publish: Feb, 15 2018 12:16:56 PM (IST)

Kota, Rajasthan, India
OMG ! कोटा में जन्मी ऐसी बालिका जिसे देख परिजनों की आंखें फटी की फटी रह गई...

सोनोग्राफी सेंटर की लापरवाही से एक जन्मजात विकृत बालिका के जन्म का मामला सामने आया है। नवजात के दोनों हाथ नहीं है।

कोटा . सोनोग्राफी सेंटर की लापरवाही से एक जन्मजात विकृत बालिका के जन्म का मामला सामने आया है। नवजात के दोनों हाथ नहीं है। जब परिजनों को बच्ची के हाथ नहीं होने की जानकारी मिली तो वह आक्रोशित हो गए और चम्बल गार्डन रोड स्थित सोनोग्राफी सेंटर पहुंचे और लापरवाही का आरोप लगाते हुए डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कहने लगे। इस दौरान वहां पहुंचे डॉक्टर ने उन्हें समझाबुझा कर मामला शांत करने का प्रयास किया। संचालक ने परिजनों को हर माह बच्ची के नाम कुछ राशि जमा कराने की बात कही तब जाकर परिजन राजी हो गए।

 

Read More: दोस्त के घर किताब लेने जा रही किशोरी का बदमाशों ने किया अपहरण, शोर मचाया तो चलती गाड़ी से फेंका

ये है नियम

जानकार डॉक्टर ने बताया कि सरकार के नियमों में हर तीन माह या आवश्यक हो तो किसी भी माह में सोनोग्राफी कराई जा सकती है। गर्भ में बच्चे के विकृति का पता तीन माह बाद ही चल जाता है। कुछ मामलों में ये समय कम या ज्यादा हो सकता है। करीब साढ़े चार या पौने पांच माह बाद नियमानुसार गर्भपात नहीं कराया जा सकता। वहीं, परिजनों ने डॉक्टर पर जांच में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है।

 

Read More: बेटी को High Education के लिए कोटा भेजा तो खाप पंचायत ने परिवार का हुक्का पानी किया बंद, एक लाख का ठोका जुर्माना

सोनोग्राफी सेंटर संचालक डॉ. राजीव नारंग ने बताया कि हमारे पास 4-डी सोनोग्राफी मशीन नहीं है, जिस कारण ये हो गया है। हम जांच नहीं करते, लेकिन इनके बार-बार कहने पर जांच की गई है। सीएमएचओ डॉ. आरके लवानिया ने बताया कि जन्मजात विकृत बालिका ने जन्म लिया है तो इस मामले की जांच करेंगे।

 

Read More: कोटा में देर रात कपड़ों की दुकानों में लगी भीषण आग, 12 दमकलों से पाया काबू ...देखिए तस्वीरें

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned