ग्रैण्ड दशहरा : कोटा के कलाकारों को मिलेगा मंच

Dhitendra Kumar Sharma

Publish: Sep, 16 2017 06:21:10 (IST)

Kota, Rajasthan, India
ग्रैण्ड दशहरा : कोटा के कलाकारों को मिलेगा मंच

कोटा दश्‍हरा मेले में सालों बाद इस बार फिर शुरू होगी 'एक शाम हाड़ौती के नाम'

 

कोटा .

दशहरा मेला में इस बार कोटा के स्थानीय कलाकारों को भी मंच मिल सकेगा। नगर निगम लंबे समय बाद 'एक शाम हाड़ौती के नामÓ कार्यक्रम की फि र से शुरुआत करेगी। शुक्रवार को मेला आयोजन समिति की बैठक में इस पर सहमति बनी। इस दौरान कोटा की विभिन्न संस्थाओं के कलाकार भी मौजूद रहे। समिति ने कोटा के कलाकारों को मंच मिले इसके लिए उनसे सुझाव भी मांगे।


महापौर महेश विजय ने कहा कि हाड़ौती की प्रतिभाओं को मंच उपलब्ध कराने के लिए यह कार्यक्रम किया जा रहा है। समिति सदस्य पार्षद नरेंद्र सिंह हाड़ा ने बताया कि बैठक के दौरान कलाकारों ने कई अहम सुझाव दिए। कलाकारों की लंबे समय से मांग थी कि 'एक शाम हाड़ौती के नामÓ कार्यक्रम शुरू हो और इसमें स्थानीय कलाकारों को मौका मिले।

समिति अध्यक्ष राम मोहन मित्रा बाबला ने कहा कि मेला हाड़ौती का लोक उत्सव है और इसमें स्थानीय कलाकारों को भी मौका मिले यह हम सबके लिए खुशी की बात है। इसमें किसी संस्था का बैनर ना होकर कलाकार सीधे ही प्रस्तुति देंगे। मानदेय सीधे कलाकार को जाएगा। पार्षद विवेक राजवंशी ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम से प्रतिभाओं को आगे बढऩे का अवसर मिलेगा।

महेश गौतम लल्ली, भगवान स्वरूप गौतम, महेश गौतम सोनू, सुरेश मीणा, धु्रव राठौर आदि ने भी अहम सुझाव दिए। उधर, बाल प्रतिभा कार्यक्रम के लिए भी ऑडिशन हुए। मेला आयोजन समिति सदस्य मीनाक्षी खंडेलवाल व मोनु कुमारी ने ऑडिशन लिए। बच्चों ने मनमोहक प्रस्तुतियां दी।


दुकान आवंटन में सिफारिशों का अम्बार
मेले में जगह आवंटित करवाने के लिए लोग भाजपा नेताओं के चक्कर काटने लगे हैं। फूड कोर्ट में जगह आवंटित करवाने के लिए सबसे ज्यादा सिफारिश लगाई जा रही है। फूड कोर्ट में जगह सीमित है और लेने वालों की संख्या ज्यादा। हालांकि आयुक्त ने स्पष्ट किया है कि जगह आवंटित करने में पारदर्शिता बरती जाएगी। आवंटन के लिए कम से कम समिति के छह सदस्यों के हस्ताक्षर होने चाहिए। पिछली बार एक समिति सदस्य के हस्ताक्षर पर ही जगह आवंटित कर दी गई थी। यह मामला तत्कालीन आयुक्त के समक्ष आते ही, उन्होंने जांच की सिफारिश की थी। बाद में मामले को ठण्डे बस्ते में डाल दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned