गाड़ी के फाइनेंस के मामूली विवाद के चलते कर डाली साथी की हत्या

मछली बाजार में युवक की गोली मारकर हत्या करने के तीन आरोपी गिरफ्तार
शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी

कोटा. श्रीपुरा मछली मार्केट में दस दिन पूर्व युवक की हत्या मामूली विवाद के चलते हुए थी। आपस में मामूली झगड़े के बाद साथियों की शिकायत पर अमन बच्चा ने साथियों के साथ पहुंचकर शाकिर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में पुलिस ने शनिवार को फरार चल रहे तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया, जबकि इसमें एक आरोपी को पूर्व में ही गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी होना फिलहाल शेष है।

कोटा शहर पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने बताया कि 7 जनवरी को मृतक के भाई श्रीपुरा मछली मार्केट निवासी अशफाक उर्फ बाबा कुरैशी (33) ने पुलिस में दर्ज रिपोर्ट में बताया कि उसके व उसके भाई शाकिर उर्फ भूरियां पर अमन बच्चा तथा उसके भाई फैजल, भय्यू उर्फ अख्तर, शाहनवाज उर्फ नुक्ती, इसरत, समीर, खुशाल गुर्जर व अन्य लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया। इसमें शाकिर की गोली लगने से मौत हो गई। इस मामले में गठित पुलिस टीमों ने घटना स्थल के आस पास लोगों से सूचना एकत्रित की। पुलिस ने घटना स्थल के आस पास दुकानों पर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार पर आरोपी अमन बच्चा तथा उसका भाई फैजल, भय्यू उर्फ अख्तर, शाहनवाज उर्फ नुक्ती, इसरत उर्फ बच्चा, समीर उर्फ समीरा, खुशाल गुर्जर, साहिल तथा टमटम उर्फ खुशाल लखारा की पहचान कर इन्हें नामजद किया और आरोपियों की तलाश शुरू की। आरोपियों की तलाश के लिए मुखबिरों की सूचना पर संदिगधों से पूछताछ कर सूचनाएं एकत्र की गई। 8 जनवरी को पुलिस ने आरोपी पाटनपोल के बीबी जोहरा की मस्जिद के निकट रहने वाले शाहनवाज उर्फ नुक्ती (20) को गिरफ्तार कर लिया। जिसे न्यायालय के आदेश पर रिमांड के बाद जेल भेज दिया गया। कैथूनीपोल थानाधिकारी पवन मीणा के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी पाटनपोल निवासी अख्तर हुसैन उर्फ भय्यू (29), इन्द्रा मार्केट निवासी समीर पठान (22), रामपुरा निवासी फाईज अंसारी उर्फ साहिल बच्चा (18) को गिरफ्तार किया गया। जबकि शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है।

लो चुन ली गांव की सरकार' , जानिए हाड़ौती की ग्राम
पंचायतों में कौन बना सरपंच

फाइसेंस को लेकर मामूली विवाद बना हत्या का कारण
आरोपी अख्तर हुसैन उर्फ भय्यू व समीर ने पूछताछ में बताया कि वे फाइनेंस की गई गाड़ी के रुपयों को लेकर अशफाक उर्फ बाबा के पास श्रीपुरा गए थे, जहां अशफाक व उसके भाई शाकिर उर्फ भूरियां मिले। जिनसे उनका विवाद हो गया। इस पर वे वहां से लौट आए। उन्होंने इस मामले की जानकारी अमन बच्चा को दी। इस पर अमन बच्चो तीन बाइकों पर 9 साथियों के साथ वहां पहुंचा और अशफाक उर्फ बाबा व शाकिर उर्फ भूरियां से लड़ाई झगड़ा करने लगा और इस दौरान अमन बच्चा ने शाकिर उर्फ भूरियां की पिस्टल से गोली मारकर उसक हत्या कर दी

Show More
Rajesh Tripathi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned