script मरीज की बीमारी पूछने पर तीमारदारों की बेरहमी से पिटाई, राहगीरों ने बचाई जान | relative of patients beaten by doctor and his staff | Patrika News

मरीज की बीमारी पूछने पर तीमारदारों की बेरहमी से पिटाई, राहगीरों ने बचाई जान

locationकुशीनगरPublished: Jan 31, 2024 10:29:39 am

Submitted by:

anoop shukla

निजी अस्पताल के कर्मचारियों की गुंडई सामने आने के बाद स्थानीय लोगो ने विरोध किया और अस्पताल में तोड़फोड़ भी की। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। इस मामले में वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमे कप्तानगंज थानाक्षेत्र के बभनौली स्थिति श्रीराम लखन मेमोरियल हॉस्पिटल के स्टाफों ने मरीजो से मिलने आये तीमारदारों से बदसलूकी और मारपीट किया।

मरीज की बीमारी पूछने पर तीमारदारों की बेरहमी से पिटाई, राहगीरों ने बचाई जान
मरीज की बीमारी पूछने पर तीमारदारों की बेरहमी से पिटाई, राहगीरों ने बचाई जान
जिले के कप्तानगंज थानाक्षेत्र में एक निजी अस्पताल की खुलेआम दबंगई सामने आई है। जिसमे इलाज कराने पहुंचे मरीज के परिजनों से बदसलूकी और मारपीट करने का मामला सामने आया है। अस्पताल संचालन के कर्मचारियों द्वारा तीमारदार को बेरहमी से पीटने का वीडियो भी सामने आया है।
निजी अस्पताल के कर्मचारियों की गुंडई सामने आने के बाद स्थानीय लोगो ने विरोध किया और अस्पताल में तोड़फोड़ भी की। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। इस मामले में वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमे कप्तानगंज थानाक्षेत्र के बभनौली स्थिति श्रीराम लखन मेमोरियल हॉस्पिटल के स्टाफों ने मरीजो से मिलने आये तीमारदारों से बदसलूकी और मारपीट किया।
वीडियो भी सामने आया है, जिसमे अस्पताल से जुड़े लोगों ने एक तीमारदार को दौड़ाकर बेरहमी से लात घुसो से पीटते दिखाई दे रहे हैं।

मरीज की बीमारी पूछने पर डॉक्टर और स्टाफ ने बेरहमी से पीटा
पीड़ित आकाश सिंह ने बताया कि वे रामकोला थानाक्षेत्र के सिधावट छावनी के रहने वाले है। उनकी मां के चचेरे भाई की तबियत मंगलवार को खराब बताकर डॉक्टर ने अस्पताल में एडमिट कर लिया। सूचना मिलने पर मरीज रमेश सिंह से मैं अपने परिजनों के साथ मिलने पहुंचा।
मरीज के साथ महिला व बच्चे थे तो मां के कहने पर डॉक्टर से मरीज की बीमारी पूछा।इतने पर डॉक्टर भड़क गए व सबके सामने माँ बहन की गाली देते हुए भगाने लगे। मेरी मां व परिजन बीच बचाव करने को कोशिश किये तो डॉक्टर व स्टाफों ने बतमीजी की। मैं विरोध किया तो डाक्टर ने लोकल के मनबढो को बुला मुझे बेहरमी से पीटा।
स्थानीय लोगों के विरोध करने पर बची जान

स्थानीय लोगों ने इकठ्ठा होकर जब विरोध किये तब जाकर मेरी जान बची। लेकिन डॉक्टरों ने लोगो से बदसलूकी की तो लोगों ने अस्पताल को नुकसान पहुचाया। मैं पुलिस में तहरीर देकर दोषियों पर कार्यवाही की मांग किया हु।
कप्तानगंज थानाक्षेत्र के इंस्पेक्टर राजकुमार बरवार ने बताया कि अस्पताल प्रबंधन ने पहले तीमारदार के साथ बदसलूकी की बात सामने आई हैं। साथ ही उसे बेरहमी से पीटने का वीडियो भी मिला लोगों ने अस्पताल पर तोड़ फोड़ भी किया। दोनो पक्षो को थाने बुलाया हु अभी कोई तहरीर नही मिली। तहरीर मिलने पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो