नेशनल स्क्वाश प्लेयर से लेकर सक्सेस बिजनेसमैन तक, कुछ ऐसा रहा है Deepak Kochhar का सफर

  • सिर्फ चंदा कोचर के पति के नाम से ही नहीं पहचाने जाते हैं दीपक कोचर
  • दीपक कोचर ने तीन बार स्‍क्‍वाश में नेशनल टाइटल्‍स किए हैं अपने नाम

By: Saurabh Sharma

Updated: 08 Sep 2020, 03:09 PM IST

नई दिल्‍ली। दीपक कोचर ( Deepak Kochhar ) को सोमवार रात इंफोर्समेंट डायरेक्ट्रेट ने गिरफ्तार कर लिया। वो देश की जानी मानी महिला और आईसीआईसीआई की पूर्व प्रमुख चंदा कोचर के पति हैं। उन पर वीडियोकॉन स्कैम और मनी लांड्रिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया है। वैसे दीपक कोचर अपनी पत्नी चंदा कोचर के मुकाबले काफी कम लाइमलाइट में रहे हैं, लेकिन उन्होंने अपनी पहचान को सिर्फ चंदा कोचर का पति होने तक सीमित नहीं रखा। उन्होंने ना सिर्फ बिजनेस में अपनी अलग पहचान बनाई। बल्कि अपने जवानी के दिनों में स्क्वाश के अच्छे खिलाड़ी भी रहे हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि उनके जिंदगी की कुछ ऐसी बातें जो काफी कम लोग जानते हैं।

यह भी पढ़ेंः- वीडियोकॉन घोटाला: ईडी की बड़ी कार्रवाई, Money Laundering मामले में दीपक कोचर गिरफ्तार

इस कंपनी के मालिक थे दीपक
दीपक कोचर की बिजली पैदा करने वाली न्‍यूपॉवर रेनेवेबल्‍स प्राइवेट लिमिटेड के फाउंडर होने के साथ कंपनी के सीईओ भी थे। 2018 में उनकी कंपनी 700 मेगावॉट बिजली पैदा करने के प्रॉजेक्‍ट पर काम कर रही थी। इसके अलावा कर्नाटक, राजस्‍थान, महाराष्‍ट्र, आंध्रप्रदेश और मध्‍यप्रदेश में भी काम चल रहा था। कंपनी का शेयर कैपिटल करीब 460 करोड़ रुपए का है। कंपनी का हेड ऑफिस बैंड्रा कुरला कांप्‍लेस में हैं। ताज्‍जुब की बात तो ये है कि आईसीआईसीआई बैंक का भी हेडक्‍वार्टर भी यहीं है। वैसे ईडी ने साल की शुरुआत में चंदा कोचर, दीपक कोचर और उनकी कंपनियों की 78.15 करोड़ रुपए की चल और अचल संपत्तियां कुर्क की थी।

यह भी पढ़ेंः- Nirav Modi के खिलाफ सुनवाई में लंदन कोर्ट में चली ऑर्थर रोड जेल की वीडियो, जानिए क्या है पूरा मामला

स्क्वाश के नेशनल प्लेयर रहे हैं दीपक कोचर
दीपक कोचर के बारे में लोग बहुत कम लोग जानते हैं, लेकिन एक खास बात और भी है जिसे लोग ना बराबर ही जानते हैं। चंदा कोचर के पति दीपक कोचर एक बहुत बेहतरीन स्‍क्‍वाश प्‍लेयर भी रह चुके हैं। उन्‍होंने तीन बार स्‍क्‍वाश में नेशनल टाइटल्‍स अपने नाम किए हैं। वैसे वो साल कौन से थे इस बारे में हमें जानकारी नहीं मिल सकी है। लेकिन जानकारों की मानें तो वो बहुत अच्‍छे स्‍क्‍वाश प्‍लेयर थे। अगर आगे भी खेलते तो इंटरनेशनल टाइटल भी अपने नाम कर सकते थे।

यह भी पढ़ेंः- पहले दिन करीब 3 गुना आए Happiest Minds IPO के लिए आवेदन, आज फिर से देखने को मिलेगी रौनक

बैचमेट से लाइफमेट बने चंदा-दीपक
शायद ही आपको पता हो कि चंदा कोचर कॉलेज से लेकर मैनेज्‍मेंट से पढ़ाई करने तक बैचमेट थे। दोनों ने ही जमनालाल बजाज इंस्‍टीट्यूट ऑफ मैनेज्‍मेंट से मास्‍टर डिग्री हासिल की। उसके बाद हॉवर्ड बिजनेस स्‍कूल में भी साथ रहे। जिसकी वजह से दोनों को एक दूसरे को समझने का अच्‍छे से मौका मिला। जिसके बाद दोनों ने एक दूसरे के साथ शादी भी की। दोनों एक अच्‍छी शादीशुदा जिंदगी जी रहे हैं। जहां चंदा कोचर हमेशा लाइमलाइट में रहती हैं। वहीं दीचक कोचर का लाइफ स्‍टाइल हमेशा लो प्रोफाइल ही रहा है।

यह भी पढ़ेंः- Airtel Xstream Fibre: कीमत से लेकर स्पीड तक और जानें क्या-क्या मिलेंगी सुविधाएं

ईडी ने किया गिरफ्तार
ईडी ने सोमवार को दीपक कोचर को वीडियोकॉन ऋण मामले में गिरफ्तार कर लिया। वीडियोकॉन के निदेशक वेणुगोपाल धूत, उनकी कंपनियों के खिलाफ सीबीआई द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर पिछले साल ईडी द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग) का मामला दर्ज किया गया था। इसके साथ ही ईडी ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर के खिलाफ भी शिकायत दर्ज की थी। उस कार्रवाई के लगभग एक साल बाद अब ईडी ने दीपक कोचर को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ेंः- ONGC भर्ती परीक्षा में आपने भी किया था अप्लाई तो ऐसे देख सकते हैं अपना रिजल्ट

क्या है आरोप?
यह पूरा मामला वीडियोकॉन समूह को बैंक ऋण देने में कथित अनियमितताओं और मनी लांड्रिंग की जांच से जुड़ा है। जांच के अनुसार वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज लिमिटेड और उसकी समूह की कंपनियों को मंजूर किए गए 1,730 करोड़ रुपए के ऋण को पुनर्वित्त और नया ऋण दिया गया था और ये ऋण 30 मार्च, 2017 को आईसीआईसीआई बैंक के लिए एनपीए बन गए। जांच के अनुसार चंदा कोचर की अध्यक्षता वाली समिति द्वारा वीडियोकॉन इंटरनेशनल इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड को स्वीकृत किए गए 300 करोड़ रुपए के कर्ज में से 64 करोड़ रुपये आठ सितंबर, 2009 को दीपक कोचर की नूपावर रिन्यूएबल्स प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को ट्रांसफर हुए थे।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned