प्रचार पर बैन तो धार्मिक यात्रा पर निकले योगी, अयोध्या-देवीपाटन के बाद बनारस भी जाएंगे

प्रचार पर बैन तो धार्मिक यात्रा पर निकले योगी, अयोध्या-देवीपाटन के बाद बनारस भी जाएंगे

Hariom Dwivedi | Publish: Apr, 17 2019 06:07:45 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

योगी की बजरंग साधना
चुप रहकर भी मतदाताओं को दे रहा बड़ा संदेश
चुनाव आयोग ने 72 घंटों का लगा रखा है प्रतिबंध

अयोध्या. चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर चुनाव प्रचार, रैली और रोड शो करने पर 72 घंटों का प्रतिबंध लगा रखा है। इस प्रतिबंध के चलते वह भले ही चुनाव प्रचार नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन उनकी धार्मिक यात्रा जारी हैं। मंगलवार को उन्होंने लखनऊ में बजरंग बली का दर्शन-पूजन किया। बुधवार को वह रामनगरी अयोध्या पहुंच गए। यहां उन्होंने प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर में बजरंगबली का दर्शन किया। रामलला के प्रमुख मंहत समेत अन्य प्रमुख संतों से भी मुलाकात की। रामलला के दर्शन के बाद वह शाम को शक्तिपीठों में से एक देवीपाटन के लिए रवाना हो गये, जहां वह रात्रि विश्राम करेंगे। गुरुवार की सुबह योगी बाबा विश्वनाथ की नगरी में होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर चुनाव आयोग का प्रतिबंध शुक्रवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा।

योगी आदित्यनाथ अपनी धार्मिक यात्रा के दौरान चुप्पी साधे हैं। वह कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। लखनऊ में उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ किया लेकिन, कोई बयान नहीं दिया। कमोबेश अयोध्या में भी यही रुख उन्होंने अख्तियार किया। राम नगरी में उन्होंने दलित बस्ती के दलित परिवार महावीर से मुलाकात की। प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी मेवालाल के घर पहुंचे। यहां उन्होंने सब्जी-रोटी खाई। इस दौरान उन्होंने घर के बाकी सदस्यों से मुलाकात की। पीएम आवास योजना के लाभ के बारे में जानकारी लेते हुए पूछा-किसी ने पैसे की मांग तो नहीं की। इस दौरान उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि कोई समस्या हो तो उनसे बताएं।

रात्रि विश्राम देवीपाटन में
इसके बाद पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत मणिराम दास छावनी के महंत और श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास से उनके आश्रम में जाकर मिले। उनका कुशल क्षेम पूछा और मंत्रणा की। इस बीच वह हनुमानगढ़ी गए और बजरंगबली की पूजा की। देर शाम योगी का काफिला गोंडा के देवीपाटन मंदिर पहुंचा। यहां आदि शक्ति की पूजा आराधना के बाद यहीं रात्रि विश्राम का कार्यक्रम है। इसके बाद बृहस्पतिवार की सुबह काशी पहुंचेगे। यहां वह बाबा विश्वनाथ और संकटमोचक हनुमान मंदिर में पूजन-अर्चन करेंगे।

चुपचाप दे रहे मैसेज
योगी आदित्यनाथ चुनाव प्रचार के बैन का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं लेकिन, उनकी भाव भंगिमा और गतिविधियां अप्रत्यक्ष तौर पर हिंदू मतों को प्रभावित कर रही हैं। वह चुप होकर भी अपने हिंदूवादी एजेंडे को आगे बढ़ा रहे हैं।

दिव्यांग बच्चों से सुना भजन
अयोध्या रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के मोहान रोड स्थित साकेत विद्यालय में दिव्यांग बच्चों से मुलाकात की। उनका हालचाल लिया और उनसे विद्यालय में मिलने वाली सुविधाओं पर फीडबैक लिया। इस दौरान बच्चों ने मुख्यमंत्री योगी को भजन भी सुनाए। राजधानी में सीएम योगी ने तीन तलाक पीडि़त महिलाओं से मुलाकात की। इस दौरान पीडि़त महिलाओं ने मुख्यमंत्री से अपना दुख-दर्द साझा किया।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned