यूपी से बाहर फंसे लोगों के लिए सीएम योगी की मदद, कई मुख्यमंत्रियों से बात कर किया बड़ा ऐलान

सीएम योगी ने शुक्रवार को अन्य राज्यों में रह रहे यूपी के नागरिकों को लेकर अपनी चिंता जाहिर की।

By: Abhishek Gupta

Updated: 27 Mar 2020, 05:19 PM IST

लखनऊ. सीएम योगी ने शुक्रवार को अन्य राज्यों में रह रहे यूपी के नागरिकों को लेकर अपनी चिंता जाहिर की। उन्होंने उत्तर प्रदेश के और प्रदेश के बाहर रह रहे समस्त नागरिकों से अपील की है कि जो जहां है, वहीं रुकें, सरकार उनकी पूरी सुविधा का ध्यान रखेगी। कोई समस्या उनके सामने न आने पाए इस पर सरकार का पूरा फोकस है। सीएम योगी ने होम क्वारन्टाइन की व्यवस्था देखने, पशुओं के चारे की व्यवस्था करने तथा जमाखोरी, कालाबाजारी को रोकने के लिए भी 11 कमेटियों का गठन किया है। जो अलग-अलग क्षेत्रों में सभी कार्यों को आगे बढ़ाएंगी। जिससे नागरिकों को स्वास्थ्य, खाद्यान्न, दवा, दूध, आइसोलेशन वाॅॅर्ड आदि की असुविधा न हो। इन दिनों अन्य राज्यों में रह रहे श्रमिकों को लॉकडाउन के कारण खाने पीने तक की समस्या का समाधान करना पड़ रहा है। वह पैदल या साइकिल पर सवार होकर मीलों दूर अपने घर को रवाना हो रहे हैं। जिससे वह अपने लिए ही संकट खड़ा कर रहे हैं। ऐसे में सीएम योगी ने उनसे चिंता न करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से जुड़े जो लोग महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तराखंड आदि प्रदेशों में रोजगार के लिए गए हैं, वहां के मुख्यमंत्रियों से बात की गई है। उनको वहां पर पूरी सुविधा दी जाए। सीएम योगी ने उन सभी मुख्यमंत्रियों से निवेदन किया है कि यूपी के प्रवासियों को वहीं सुविधाएं उपलब्ध करवा दें। उनकी जो भी आवश्यकताएं होंगी उनका खर्च प्रदेश सरकार वहन करने को तैयार है। जो लोग बाहर गए हैं वह वहां से प्रस्थान न करें बल्कि वहीं उनके रहने की पूरी व्यवस्था कर दी जाए। सभी राज्य सरकारें इस पर पूरी संवेदनशीलता के साथ कार्य कर रही हैं। यूपी चीफ सेक्रेटरी ने भी दिल्ली, महाराष्ट्र, हरियाणा व राजस्थान के मुख्य सचिवों को पत्र लिख कर भी उनसे आग्रह किया है।

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में नो टेंशन, आसान भाषा में जानें कैसे मिलेगा घर बैठे राशन

यूपी में बाहर से आए लोगों का सरकार रखेगी ध्यान-
सीएम योगी ने साथ ही कहा कि 12 नोडल अधिकारी अन्य राज्यों के नागरिकों, जो यूपी में हैं, उनकी समस्याओं का समाधान करेंगे। यपी के जो नागरिक उन राज्यों में हैं उनके लिए वहां की राज्य सरकार, चीफ सेक्रेटरी के साथ मिलकर समन्वय बनाने का कार्य करेंगी। यूपी के नागरिकों के लिए और प्रदेश में विभिन्न राज्यों के जो नागरिक रह रहे हैं, उन्हें उत्तम स्वास्थ्य व अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकें, खाद्यान्न की व्यवस्था हो, कोई असुविधा न हो, इसके लिए हमने शुक्रवार को 12 राज्यों के लिए नोडल अधिकारी तैनात किए हैं। वे राउंड द क्लाॅक यूपी के इन राज्यों में रह रहे नागरिकों की समस्याओं का समाधान करेंगे और उन राज्यों के नागरिकों को 21 दिनों के लाॅकडाउन के कार्यक्रम में स्वास्थ्य, खाद्यान्न आदि की समस्त समस्याओं का निवारण करने के लिए कार्य करेंगे। दिल्ली में उ.प्र. के रेजीडेंट कार्यालय के रेजीडेंट कमिश्नर पी.के. सारंगी को कोऑर्डिनेट करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इन सभी 12 अधिकारियों के साथ एक आईपीएस अधिकारी को भी तैनात किया गया है। महाराष्ट्र के लिए प्रमुख सचिव, लोनिवि नितिन गोकर्ण, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लिए प्रमुख सचिव सिंचाई टी. वेंकटेश, कर्नाटक के लिए डी.जी. बेसिक शिक्षा विजय किरण आनंद को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

सीएम योगी ने कहा कि मोहल्ले की किराने की दुकानों को भी हिदायत दी गई है कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए पूरी प्रतिबद्धता के साथ आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति को आगे बढ़ाने का कार्य करें। सभी अधिकारियों को 'डोरस्टेप डिलीवरी' पर भी आवश्यक निर्देेश दिए हैं। हमारे लगभग 18,000 से अधिक वाहन आज के दिन तक इस कार्य में जुड़े हैं।

coronavirus
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned