kalbe jawad का बड़ा बयान, कहा- मॉब लिंचिंग से निपटने के लिए मुसलमानों को सिखाया जाएगा हथियार चलाना

kalbe jawad का बड़ा बयान, कहा- मॉब लिंचिंग से निपटने के लिए मुसलमानों को सिखाया जाएगा हथियार चलाना

Ruchi Sharma | Updated: 22 Jul 2019, 12:48:57 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

-Mob Lynching को लेकर कल्बे जवाद का विवादित बयान
-मुसलमानों को दी आत्मरक्षा के लिए हथियार खरीदने की नसीहत

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) ने मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) की आलोचना के बाद अब शिया धर्मगुरु कल्बे जवाद (Kalbe Jawad) ने मॉब लिंचिंग को लेकर विवादित बयान दे डाला है। मौलाना कल्बे जवाद ने मुसलमानों से अपील करते हुए आत्मरक्षा के लिए हथियार खरीदने की नसीहत दे डाली है। उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा कि मॉब लिंचिंग मुसलमानों के एनकाउंटर (Encounter) का नया रूप है। 26 जुलाई को मॉब लिंचिंग से आत्मरक्षा के नाम पर लखनऊ में ट्रेनिंग आयोजित करने की घोषणा की है। जवाद ने कहा है कि 26 जुलाई को कानूनी तौर पर हथियारों रखने की ट्रेनिंग के लिए कैंप का आयोजन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- सोनभद्र मामले में भाजपा का बड़ा खुलासा, बताई घटना के पीछे की असल वजह, सुनते ही सीएम योगी ने कर दी बड़ी कार्रवाई

लोगों को भड़काने की हो रही है कोशिश

कल्बे जवाद ने आगे कहा कि मॉब लिंचिंग, जिसके बारे में सोचकर ही दिल कांप उठता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी मॉब लिंचिंग के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की हिदायत देते रहे हैं। उत्तर प्रदेश समेत कई राज्य मॉब लिंचिंग के खिलाफ कड़े कानून भी लाने पर विचार कर रहे हैं, लेकिन कानून से अलग जाकर हथियारों से मॉब लिंचिंग का मुकाबला करने के लिए लोगों को सरेआम भड़काने की कोशिश की जा रही है। वह भी संविधान में मिले अधिकारों की दुहाई देकर।

यह भी पढ़ें- समाजवादी पार्टी को बहुत बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुये सपा के यह दिग्गज नेता

आत्म रक्षा के लिए कानूनी हथियार चलाने की दी जाएगी जानकारी

कल्बे जवाद ने मॉब लिंचिंग पर दुख जताया हुए कहा कि लखनऊ बड़े इमामबाड़े (Bara Imambara) में एक आम जलसा कर मॉब लिंचिंग का विरोध किया जाएगा और इस दौरान वहां मौजूद रहने वालों को आत्म रक्षा के लिए कानूनी हथियार के इस्तेमाल की जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हथियार का लाइसेंस लेने के लिए लोगों को ना सिर्फ जानकारी दी जाएगी, बल्कि उन्हें जागरूक भी किया जाएगा।

आजम खां भी दे चुके है विवादित बयान

जानकारी हो कि इससे पहले आजम खां ने भी मॉब लिंचिंग को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि यह वो सजा है जो इस देश का मुसलमान 1947 के बाद से भोग रहा है। अब इस मामले में जो भी होगा, मुसलमान उसका सामना करेंगे। आजम ने आगे यह भी कहा- हमारे पूर्वज पाकिस्तान क्यों नहीं गए? उन्होंने भारत को अपना देश समझा। यह हमारी गलती है। मौलाना आजाद, पं. जवाहरलाल नेहरु, सरदार पटेल और बापू ने मुस्लिमों से अपील की पाकिस्तान न जाएं। मुस्लिम आजादी के बाद से ही घृणात्मक जीवन जी रहे हैं। मुस्लिम इस पर शर्मिंदा हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned