महंत परमहंस दास को लखनऊ पीजीआई से मिली छुट्टी

महंत परमहंस दास को लखनऊ पीजीआई से मिली छुट्टी

Mahendra Pratap Singh | Publish: Oct, 13 2018 07:39:27 PM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 11:26:55 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

अनशन पर बैठे परमहंस दास महंत का अनशन शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खत्म किया। उन्हें पीजीआई से छुट्टी दे दी गई है

लखनऊ. राममंदिर निर्माण को लेकर अनशन पर बैठे परमहंस दास महंत का अनशन शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खत्म किया। इसके बाद शुक्रवार शाम उन्हें पीजीआई से छुट्टी दे दी गई है। अस्पताल से निकलते वक्त उनके साथ वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी भरत सिंह, निदेशक प्रोफेसर राकेश कपूर समेत तमाम लोग थे।

प्रधानमंत्री से मंदिर निर्माण पर बात करने का वादा

राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण को लेकर सियासत गर्म है। राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण को लेकर महंत परमहंस दास अनशन पर बैठे थे। उनका स्वास्थ्य बिगड़ने के कारण उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती किया गया था। शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री ने लखनऊ कार्यालय में परमहंस दास की मांग को गरिमामय मान उनकी अन्य मांगों के अनुरूप प्रधानमंत्री से वार्ता कराने का वादा करके अनशन समाप्त करवाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के रहते मंदिर निर्माण करना कठिन नहीं

लखनऊ के पीजीआई में इलाज करा रहे महंत परमहंस दास को अयोध्या विधानसभा क्षेत्र के विधायक वेदप्रकाश गुप्त ही मुख्यमंत्री कार्यालय ले कर गए। इस दौरान मुख्यमंत्री से मिल कर परमहंस दास ने कहा कि उनका विरोध सरकार के खिलाफ नहीं बल्कि राममंदिर निर्माण को लेकर है। परमहंस दास ने विश्वास जताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के रहते मंदिर निर्माण करना कठिन नहीं है।

गौरतलब है कि 1 अक्टूबर से ही परमंहस दास अपने आश्रम के बाहर अनशन पर बैठ गए थे। अनशन तोड़ने और उन्हें मनाने की प्रआशसन ने कोशिशें कीं लेकिन वे अपनी मांग से टस से मस नहीं हुए। सोमवार को फैजाबाद के प्रभारी मंत्री सतीश महाना ने तक उनसे बात कर उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन बात नहीं बनी। उन्हें 7 अक्टूबर को लखनऊ पीजीआई में भर्ती किया गया था।

ये भी पढ़ें: लखनऊ की सड़क पर नमाज पढ़ने वाला सिरफिरा, पहले भी कर चुका है ऐसी हरकत: मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली

ये भी पढ़ें: सपा नेता रामगोपाल की गैर मौजूदगी से अखिलेश समर्थक बेचैन

Ad Block is Banned