यूपी में 21 अप्रैल तक बंद रहेंगे सर्राफा बाजार, इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन ने लिया फैसला

- Indian Bullion and Jewelers Association decision

-लखनऊ समेत अन्य शहरों में मुख्य बाजार भी खुद से बंद रखेंगे व्यापारी

-कहा जिंदगी रही तो फिर से कमा लेंगे, अभी जीवन बचाना जरूरी

By: Karishma Lalwani

Updated: 19 Apr 2021, 11:16 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. Indian Bullion and Jewelers Association decision to close Markets till 21st April- तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सर्राफा कारोबारियों ने 21 अप्रैल तक प्रदेश में कारोबार पूरी तरह से बंद करने का निर्णय किया है। राजधानी लखनऊ, वाराणसी, लखीमपुर खीरी समेत यूपी के अन्य प्रमुख शहरों में बाजार मुख्य रूप से बंद रहेंगे। प्रदेश अध्यक्ष अनुराग रस्तोगी का कहना है कि एसोसिएशन की प्रत्येक जिला इकाई के अध्यक्ष व महामंत्री की सहमति से यह फैसला लिया गया है।21 अप्रैल यानी बुधवार को हालात देखते हुए यह निर्णय लिया जाएगा कि बाजार खोल दिए जाएं या बंदी जारी रखी जाए।

जिंदगी रही तो फिर से कमा लेंगे

दरअसल, प्रदेश के विभिन्न शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा है। इसके उलट दिन में बाजार खुल रहे हैं और खरीदारों की भीड़ भी उमड़ रही है। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी पूरी तरह नहीं होता। इनमें से काफी लोग मास्क भी नहीं लगाते। इससे संक्रमण के तेजी से फैलने का डर बना हुआ है। इन हालातों को देखते हुए व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने बाजार बंदी का फैसला किया है। लखनऊ से वरिष्ठ व्यापारी नेता सतीश अग्रवाल ने व्यापार मंडल ग्रुप में एक संदेश देकर कहा कि संक्रमण काल में जिन्होंने दुकानें खोली हैं, उनसे अपील है कि वह लोग अपने और अपने परिवार की जान बचाएं। जान बची तो पैसा फिर कमा लेंगे।

22 तक हजरतगंज बंद

राजधानी लखनऊ के प्रमुख बाजार अमीनाबाद, आलमबाग, नाका चौक, भूतनाथ, लाटूश रोड, गौतमबुद्ध मार्ग, शिवजी मार्ग और पांडेयगंज समेत अन्य बाजारों में दुकानें नहीं खुलेंगी। हजरतगंज बाजार को 22 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया है। उधर, लखीमपुर खीरी जिले में 20 अप्रैल तक व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखने का आदेश है।

क्रिकेट की सभी प्रतियोगिताएं स्थगित

क्रिकेट असोसिएशन ऑफ लखनऊ (सीएएल) ने शहर में होने वाले सभी क्रिकेट इवेंट स्थगित कर दी हैं। असोसिएशन सचिव केएम खान ने संबद्ध सभी यूनिट, अकादमी और क्लब को स्थिति से अवगत करवाते हुए खेल गतिविधियां तत्काल रोकने की अपील की है। इसी के साथ छात्रावास की सुविधा दे रहे अकादमी से हॉस्टल खाली कराने और क्लबों से तुरंत प्रशिक्षणार्थियों को उनके घर पहुंचाने की बात कही गई है।

बनारसी साड़ी कारोबार भी बंद

वाराणसी जिले में कोरोना संक्रमण भयानक रूप ले रहा है। जिले में दो दिन शनिवार व रविवार को साप्ताहिक बंदी है। अब बनारसी साड़ी कारोबार सोमवार और मंगलवार को भी बंद रहेंगे। वाराणसी वस्त्र उद्योग एसोसिएशन ने फैसला किया है कि अगली सूचना तक कारोबार दे दिनों तक बंद रहेंगे। शहर में कोरोना की स्थिति सामान्य होने तक सोमवार व मंगलवार को बनारसी वस्त्र बाजार नहीं खुलेंगे। एसोसिएशन के महामंत्री राजन बहल ने कहा है कि इस समय बाजार खोलना घातक हो सकता है। जिस तरह की स्थिति है, उससे आगे और भी बंदी संभव है। जिले में साड़ी कारोबार से लगभग सात लाख लोग जुड़े हुए हैं। करीब 40 हजार हथकरघा संचालित होते हैं।

यूपी में एक लाख से ज्यादा एक्टिव केस

बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना के 30,596 मामले सामने आए हैं। जबकि 129 कोरोना संक्रमितों की जान चली गई। पूरे यूपी में एक्टिव केसों की संख्या 191457 है, जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 9830 पर पहुंच गई है।

ये भी पढ़ें: कोविड संक्रमण के बीच वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान, शराब समेत यह दुकानें रहेंगी बंद, जानें क्या है नियम

ये भी पढ़ें: कल से लग रहा वीकेंड लॉकडाउन, घर से बाहर निकलने से पहले पढ़ लें ये गाइडलाइंस

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned