राजभवन को बम से उड़ाने की धमकी, डीजीपी का आया बड़ा बयान

झारखंड नक्सली संगठन तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमिटी ( टीएसपीसी) की ओर लखनऊ में राजभवन को 10 दिन में उड़ा देने की धमकी दी गई है।

लखनऊ. झारखंड नक्सली संगठन तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमिटी (टीएसपीसी) की ओर से लखनऊ में राजभवन को 10 दिन में उड़ा देने की धमकी दी गई है। मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने बयान दिया है। आपको बता दें कि राजभवन को भेजी गई चिट्ठी में कहा गया है कि यदि उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने राजभवन नहीं छोड़ा तो 10 दिन के भीतर ही उसे डायनामाइट से उड़ा दिया जाएग। झारखंड के नक्सली संगठन से मिली धमकी से प्रदेश सरकार व पुलिस में हड़कंप मच गया है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि है राजभवन की सुरक्षा में कोई कमी नहीं। वह खुद रोज उसका नीरिक्षण करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि प्रमुख सचिव गृह से बातचीत हुई है। धमकी का स्वरूप क्या है, इसकी जांच की जा रही है। मामले में कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़ें- मदिरा के शौकीनों के लिए बड़ी खबर, यूपी में बढ़ेगा रेस्ट्रो बार का कल्चर, इन 12 शहरों को जारी लाइसेंस

जांच शुरू-
अपर मुख्य सचिव राज्यपाल हेमन्त राव ने धमकी भरे पत्र की गंभीरता को संज्ञान में लेते हुये पत्र को मूल रूप में गृह विभाग को आवश्यक कार्रवाई के लिये प्रेषित कर दिया है। मामले में यूपी पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह व प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है। जिसके बाद झारखंड पुलिस महानिदेशक से भी संपर्क किया गया। आपको बता दें कि झारखंड में वर्तमान में विधान सभा चुनाव भी चल रहे हैं। मामले को लेकर कार्रवाई तेज कर दी गई है। कई जांच एजेंसियां जांच में जुट गई हैं। सरकार ने सक्रियता बरतते हुए झारखंड सरकार और वहां की पुलिस से संपर्क किया है।

ये भी पढ़ें- Hyderabad case: मायावती भी हुईं आक्रोशित, दिया बहुत बड़ा बयान, की यह मांग

राव ने दिया बयान-

राव ने बताया कि प्रकरण की जांच के लिए राजभवन ने संबंधित पत्र गृह विभाग को भेज दिया है। अपर मुख्य सचिव गृह का कहना है कि उन्होंने डीजीपी ओपी सिंह, डीजी इंटेलीजेंस भवेश सिंह व एडीजी सुरक्षा मुख्यालय दीपेश जुनेजा को पत्र भेज स्थिति का पूर्ण आकलन करते हुए उसकी तत्काल जांचकर बुधवार तक रिपोर्ट देने को कहा है। राजभवन की सुरक्षा के लिए आवश्यकतानुसार उपाय करने के भी निर्देश दिए गए हैैं। राजभवन की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को अतिरिक्त मुस्तैदी बरतने व हर संदिग्ध पर कड़ी नजर रखने की हिदायत भी दी गई है।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned