script कोरोना के नए वैरिएंट जेएन-1 का कहर; सर्दी-जुकाम और बुखार के मरीजों के लिए गाइडलाइन जारी, अलर्ट | New Variant Of Corona Wreaks Havoc Guidelines Issued Health Department | Patrika News

कोरोना के नए वैरिएंट जेएन-1 का कहर; सर्दी-जुकाम और बुखार के मरीजों के लिए गाइडलाइन जारी, अलर्ट

locationलखनऊPublished: Dec 24, 2023 06:34:21 pm

Submitted by:

Aman Pandey

Corona Symptoms: बीएचयू अस्पताल, जिला अस्पताल और अन्य सरकारी चिकित्सालयों में कोविड जांच भी संभव होगी। शासन की ओर से पूर्व में ही स्वास्थ्य विभाग को जारी गाइडलान और लक्षणों वाले रोगियों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

New Variant Of Corona Wreaks Havoc Guidelines Issued Health Department
Corona Symptoms: कोरोना वायरस के नए रूप जेएन-1 के बढ़ते केस के बाद शासन ने नई दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके अनुसार, सर्दी, जुकाम, बुखार, और गले में संक्रमण के लक्षणों वाले रोगियों को आरटीपीसीआर जांच और आईएमएस बीएचयू में जीनोम सिक्वेसिंग के लिए भेजा जाएगा।
बीएचयू अस्पताल, जिला अस्पताल, और अन्य सरकारी चिकित्सालयों में कोविड जांच भी संभव होगी। पिछले कुछ दिनों से ऑक्सीजन प्लांट संचालन के साथ-साथ सभी जगहों पर जांच के लिए आवश्यक उपकरणों की सत्यापन और दवाइयों के स्टॉक की जांच को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। स्थानीय चिकित्सा अधिकारी का कहना है कि सभी अस्पतालों में कोरोना जांच के लिए आवश्यक सुविधाएं मौजूद हैं। इसके अलावा, पूर्व की भांति जीनोम सिक्वेसिंग के लिए आईएमएस बीएचयू को सैंपल भेजे जाएंगे, जिसके लिए निदेशक को तात्कालिक पत्र भेजा जाएगा।
जीनोम सिक्वेसिंग क्या है?
कोरोना संक्रमित रोगियों से लिए गए सैंपल को जीनोम सिक्वेसिंग के लिए लैब में भेजा जाता है। इस प्रक्रिया के माध्यम से रोग के कारण होने वाले वायरस की पूरी जानकारी मिलती है, जिसमें संबंधित वायरस का पूर्व में किया गया म्यूटेशन भी शामिल होता है। यह विश्लेषण संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या और वायरस के म्यूटेशन की जानकारी प्रदान करता है, जिससे नए रूप के वायरस के खिलाफ सुरक्षा उत्पन्न करने में मदद मिलती है।

ट्रेंडिंग वीडियो