उन्नाव: पीड़िता की मौत के बाद भाई ने कहा- शव को न जलाएंगे, न नदी में बहाएंगे

शुक्रवार के दिन की शुरुआत जहां हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों की मौत से हुई तो अंत दुखद रूप से उन्नाव की बेटी के मृत्यु से हुई।

लखनऊ. शुक्रवार के दिन की शुरूआत जहां हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों की मौत से हुई तो अंत दुखद रूप से उन्नाव की बेटी के मृत्यु से हुई। उन्नाव रेप पीड़िता ने आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई और सफदरगंज अस्पताल में शुक्रवार रात को उसने दम तोड़ दिया। शनिवार को दिनभर इससे यूपी की सियसत गर्माती नजर आई। कांग्रेस, सपा, बसपा ने भाजपा सरकार पर चौतरफा वार किया, तो चक्रव्यूह में घिरे सीएम योगी को सामने आकर आरोपियों को जल्द सजा दिलाने का भरोसा देना पड़ा। लेकिन इन सबके बीच पीड़िता के भाई व मां पर जो गुजर रही है, उसका दर्द शायद कोई न समझ सके। दुख के सागर में डूबे भाई ने बहन की मृत्यु के बाद बड़ा बयान दिए। उसने सरकार से आरोपियों की सजा-ए-मौत की मांग तो की है साथ ही अपनी बहन की अंतिम संस्कार पर भी बयान दिया है।

ये भी पढ़ें- प्रियंका गांधी ने लखनऊ में की अहम बैठक, 2022 चनाव में गठबंधन पर आया यह बयान

मीडिया से बात करते हुए भाई ने दुख जताया कि वह अपनी बहन को नहीं बचा पाया। बहन के अंतिम संस्कार के बारे में भाई ने बताया कि वह अपनी बहन के शव को न गंगा में बहाएंगे, न ही उसे आग के हवाले करा, वह उसे धरती मैया की गोद में दफनाएगा। उससे पहले भाई ने कहा कि मेरी बहन मुझसे पूछ रही थी कि क्या मैं बच पाऊंगी। क्या आप मुझे बचाकर यहां से ले जाओगे। वहीं पीड़िता ने आखिर में मांग की कि पांचों आरोपी बचने नहीं चाहिए। भाई ने कहा कि मैं अपनी बहन को बचा नहीं पाया। लेकिन आरोपी को सजा दिलवाकर रहेंगे। मैं सरकार और पुलिस से मांग करता हूं कि मेरी बहन के आरोपियों को मौत की सजा मिलनी चाहिए।

ये भी पढ़ें- Hyderabad case: यूपी के इस व्यवसाई ने एन्काउंटर करने वाली पुलिस टीम को भेजा इतने रुपयों का चेक

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned