scriptUP Assembly Budget Session 2024 cm yogi adityanath taunt akhilesh yadav | महाभारत के सहारे योगी ने विपक्ष पर कसा तंज, बोले- हमने वचन निभाया और मंदिर वहीं बनाया | Patrika News

महाभारत के सहारे योगी ने विपक्ष पर कसा तंज, बोले- हमने वचन निभाया और मंदिर वहीं बनाया

locationलखनऊPublished: Feb 07, 2024 07:51:20 pm

Submitted by:

Aman Pandey

UP Assembly Budget Session: उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के 5वें दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, "पांडवों ने दुर्योधन से सिर्फ पांच गांव मांगे थे, यहां पर बहुसंख्यक समाज के लोगों ने अयोध्या, मथुरा और काशी मांगी थी। इसके लिए उन्हें सदियों तक संघर्ष करना पड़ा। आज अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन गया है। ये कार्य बहुत पहले हो जाना चाहिए था।"

cm yogi
UP Assembly Budget Session: उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। इस दौरान सीएम योगी ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर चाचा शिवपाल का नाम लेकर भी तंज कसा।
सीएम योगी ने कहा हमारे डिप्टी सीएम ने कहा था उनके पीडीए का मतलब परिवार डेवलपमेंट अथॉरिटी है। उनके पीडीए में और लोग हैं, लेकिन चच्चू नहीं है, हमेशा ठगे जाते हैं। कब तक न्याय होगा, एक बार पढ़िए महाभारत। वहीं सीएम योगी की इस बात पर बीजेपी सहित सपा नेता हंसने लगे। सीएम योगी ने कहा कि अगर ये लोग राम को मानते तो चाचा नहीं भूलते।
2017 से पहले पहचान छिपाने को मजबूर थे नौजवान

सीएम योगी ने आगे कहा, "2017 से पहले उत्तर प्रदेश में जिन लोगों ने शासन किया, वे उत्तर प्रदेश को कहां लेकर गए? उन्होंने उत्तर प्रदेश वासियों के सामने पहचान का संकट खड़ा कर दिया था। यहां का नौजवान पहचान छिपाने के लिए मजबूर था। वह कहीं जाता था तो नौकरी नहीं मिलती थी। किराए पर कमरे की बात तो दूर होटल और धर्मशालाओं में भी कमरे नहीं मिल पाते थे। आज उत्तर प्रदेश ने 22 जनवरी 2024 की घटना को भी देखा है।
उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि अयोध्या का पुराना गौरव वापस लौट आया है। हमें खुशी है कि हमने अपना वचन निभाया और मंदिर वहीं बनाया...। मुख्यमंत्री योगी बोले कि हम सिर्फ कहते नहीं हैं बल्कि करके दिखाते हैं।
'हम सिर्फ कहते नहीं हैं बल्कि करके दिखाते हैं'

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अयोध्या के साथ अन्याय हुआ। वहां के लोगों के साथ अन्याय हुआ है। मंदिर का मामला तो न्यायालय में था तो क्या वहां सड़क और बिजली नहीं दी जा सकती थी। क्या सरयू के घाटों की सफाई नहीं की जा सकती थी लेकिन अयोध्या को कुत्सित मंशा के कारण अभिशप्त रखा गया।
नोएडा और बिजनौर जाने से कतराती थी पहले की सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने बिना रुके, बिना डिगे, बिना झुके काम किया। हम लोग अयोध्या भी गए और प्रदेश के हर जनपद गए। अगर मैं अयोध्या और काशी गया हूं तो नोएडा और बिजनौर भी गया। अयोध्या और काशी को इसलिए अभिशप्त कर दिया गया क्योंकि वोट बैंक कट जाएगा। नोएडा और बिजनौर इसलिए नहीं जाते थे, क्योंकि वहां से कुर्सी से उतर जाएंगे। हमने कहा कि हम इन चारों जगह जाएंगे। अयोध्या इसलिए जाएंगे क्योंकि यह हमारी अस्था का विषय है। यह मेरा सौभाग्य है और मेरी सरकार का सौभाग्य है।

ट्रेंडिंग वीडियो