आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मशीन लर्निंग में बनाए कॅरियर, विदेश में मिलेगी जॉब्स

Career in Artificial Intelligence: आपने अक्सर देखा होगा कि जब आप गूगल में सर्च करने के लिए कुछ लिखने लगते हैं तो गूगल अपने आप ही उसकी पूरी स्पेलिंग या वाक्य आपको सजेशन में दिखाने लगता है।

Career in artificial intelligence : आपने अक्सर देखा होगा कि जब आप गूगल में सर्च करने के लिए कुछ लिखने लगते हैं तो गूगल अपने आप ही उसकी पूरी स्पेलिंग या वाक्य आपको सजेशन में दिखाने लगता है। आप उबर अथवा ओला कैब बुक करते हैं और आपके स्मार्टफोन का एप आपको अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचने का छोटे से छोटा और कम से कम ट्रेफिक वाला रास्ता बताने लगता है। कुछ ऐसा ही गूगल असिस्टेंट, एप्पल सिरी या अमेजन की एलेक्सा डिवाइसेज भी करती हैं, लेकिन ये एक स्टेप आगे जाकर आपकी मदद करते हैं और आपके एक ऑर्डर पर सबकुछ हाजिर करने की ताकत रखते हैं। ये सभी डिवाइसेज आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का ही चमत्कार है।

आज के समय में टेक्नॉलोजी बहुत तेजी से बदल रही है और इंसानों की जगह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस लेती जा रही है। देखा जाए तो आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) आने वाले वक्त की टेक्नो-फ्यूल साबित होगी जो विज्ञान को हमारे सोचने की सीमाओं से परे ले जाएगी। किसी चिप पर इलेक्ट्रॉनिक ब्लड के रूप में दौड़ती आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस ही निर्धारित करेगी कि मानव का भविष्य क्या होगा? जानिए एआई से जुड़ी खास बातों के बारे में और इसमें कॅरियर कैसे बनाया जाएं-

ये भी पढ़ेः अब गूगल फ्री में सिखाएगा machine learning और Artificial Intelligence

क्या है Artificial Intelligence?
वास्तव में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस बुद्धिमता न होकर डेटा का मैनेजमेंट और मेन्यूपुलेशन (गणित) है। इंजीनियरिंग की कई ब्रांचेज जैसे इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रिकल्स, कम्प्यूटर इंजीनियरिंग, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, रोबोटिक्स, मैथेमेटिक्स आदि को एक जगह मिलाकर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का निर्माण किया जाता है।

सीधी और सरल भाषा में आप एक मशीन (कम्प्यूटर, रोबोट या कोई चिप) बनाते हैं, उस मशीन में किसी खास टास्क से संबंधित दुनिया भर का डेटा फीड करते हैं और एक सॉफ्टवेयर तैयार करते हैं जो उपलब्ध डेटा के आधार पर परिस्थितियों का सटीक आंकलन कर सकें। फिर इसी आंकलन के आधार पर क्या करना ठीक रहेगा, इसका अंदाजा लगाकर बिल्कुल सही एक्शन लें। इस प्रोसेस को ही आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (Artificial Intelligence) या एआई (AI) कहते हैं।

यानि अगर आपके पास किसी विशेष विषय पर पर्याप्त डेटा है और आप एक सॉफ्टवेयर के जरिए उसे मैनेज करना सीख लें तो आप भी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के मास्टर बन सकते हैं। AI में सारा कुछ दारोमदार डेटा पर ही होता है, अगर डेटा गलत है तो आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस भी सही दिशा में काम नहीं कर पाएगी। बेसिकली आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस दो तरह की होती है, (1) रिसर्च एआई और (2) अप्लाईड एआई

रिसर्च एआई (Research AI)
रिसर्च आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का प्रयोग आम तौर पर किसी नए नियम की खोज, नया डिजाइन बनाने या किसी डिवाइस को बेहतर बनाने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए गूगल सर्च रिजल्ट्स को बेहतर बनाने के लिए रिसर्च एआई का प्रयोग होता है।

अप्लाईड एआई (Applied AI)
जब आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का प्रयोग आम जीवन में उपयोग के लिए करते हैं तो उसे अप्लाईड एआई कहा जाता है। एप्पल की सिरी, अमेजन की एलेक्सा और एलन मस्क की सेल्फ ड्राईविंग कार जैसी अनगिनत डिवाइसेज अप्लाईड एआई के ही उदाहरण है।

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस में ऐसे करें शुरूआत
आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस सीखने या इसमें कॅरियर बनाने में दो चीजें सबसे ज्यादा जरूरी हैं (1) कम्प्यूटर सांइस तथा (2) मैथेमेटिक्स। अगर किसी को इनमें से एक में भी महारथ और दूसरे में कामचलाऊ ज्ञान है तो वो बहुत ही आसानी से आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस में टॉप लेवल पर पहुंच सकता है।

इस क्षेत्र में कॅरियर बनाने के लिए जरूरी है कि आपके पास इंजीनियरिंग की डिग्री हो। यह डिग्री कम्प्यूटर साइंस, सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी, गणित, इलेक्ट्रोनिक्स, इलेक्ट्रीकल्स जैसे सब्जेक्ट्स में होनी चाहिए। कुछ जगहों पर कोर्सेज में एडमिशन के लिए एंट्रेस एग्जाम भी क्वालिफाई करना होता है।

आप भी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस सीखने के लिए कर सकते हैं कोर्सेज
कम्प्यूटर साइंस से जुड़े लगभग सभी टॉप इंस्टीट्यूट्स में इस विषय पर स्पेशल कोर्सेज चलाए जा रहे हैं। आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मशीन लर्निंग में इस समय अमरीका टॉप पर है। इस वक्त के टॉप 10 यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं-

1. मैसाच्यू्ट्स टेक्नोलॉजी ऑफ टेक्नोलॉजी, कैम्ब्रिज (http://www.mit.edu/)
2. कार्नेगी मेलन यूनिवर्सिटी, पिट्सबर्ग (https://www.cmu.edu/)
3. स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी, स्टेनफोर्ड (https://www.stanford.edu/)
4. यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बार्कले (https://www.berkeley.edu/)
5. यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन, सिएटल (https://www.washington.edu/)
6. कार्नेल यूनिवर्सिटी, इटासा (https://www.cornell.edu/)
7. जार्जिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, एटलांटा (https://www.gatech.edu/)
8. यूनिवर्सिटी ऑफ इलिलोएस, अरबाना (https://illinois.edu/)
9. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास, आस्टिन (https://www.utexas.edu/)
10. यूनिवर्सिटी ऑफ मिशीगन, एन आर्बर (https://umich.edu/)

भारत में भी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस को लेकर काफी काम हो रहा है। यहां भी इस तरह के कई इंस्टीट्यूट्स हैं जहां आप एआई पर कोर्स कर सकते हैं। भारत में मुख्यतया दो तरह के कोर्स करवाए जा रहे हैं (1) एम.टेक. तथा (2) पीजी डिप्लोमा।

M.Tech. कोर्सेज के लिए ये इंस्टीट्यूटस हैं बेस्ट

  • यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद (https://www.uohyd.ac.in/)
  • आंध्र विश्वविद्यालय (https://andhrauniversity.edu.in/)
  • एमिटी यूनिवर्सिटी (http://www.amity.edu/Gurugram/)
  • मणिपाल विश्वविद्यालय (https://manipal.edu/mu.html)

PG Diploma कोर्सेज के लिए

  • यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद (https://www.uohyd.ac.in/)
  • IIIT, बैंगलोर (https://www.iiitb.ac.in/)

शार्ट टर्म सर्टिफिकेट कोर्सज के लिए
हैदराबाद यूनिवर्सिटी
हैदराबाद यूनिवर्सिटी में एम.टेक के अतिरिक्त 15 सप्ताह का शॉर्ट टर्म कोर्स भी करवाया जाता है। इसमें मशीन लर्निंग तथा आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के बारे में स्टूडेंट्स को जानकारी दी जाती है। इसकी पूरी जानकारी आप https://www.iiit.ac.in/ से भी ले सकते हैं।

IIT, खड़गपुर
आईआईटी खड़गपुर ने हाल ही में अपने तीन कैम्पस में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर छह महीने का कोर्स शुरु किया है। कोर्स की अधिक जानकारी http://www.iitkgp.ac.in/ पर क्लिक कर देख सकते हैं।

ऑनलाइन कोर्सेज
दुनिया की लगभग सभी टॉप यूनिवर्सिटीज तथा इंस्टीट्यूटस युवाओं के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के ऑनलाइन कोर्सेज चला रहे हैं। इनमें गूगल, अमेजन, टेस्ला जैसी कंपनियों भी शामिल हैं। ऑनलाइन स्टडी प्लेटफॉर्म्स edX तथा Coursera पर जाकर आप MIT, University of Texas के कोर्सेज ज्वॉइन कर सकते हैं। इस समय के बेस्ट ऑनलाइन कोर्सेज निम्न प्रकार हैं-

Learn with Google AI (https://ai.google/education/)
Google - Machine Learning (https://www.class-central.com/course/udacity-deep-learning-5681)
Stanford University – Machine Learning (https://www.coursera.org/learn/machine-learning)
Columbia University – Machine Learning (https://www.class-central.com/course/edx-machine-learning-7231)
Nvidia – Fundamentals of Deep Learning for Computer Vision (https://www.class-central.com/course/fundamentals-of-deep-learning-for-computer-vision-10730)

अभी हाल ही में प्रकाश जावड़ेकर ने घोषणा की थी कि अगले वर्ष से सीबीएसई के कोर्स में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस भी पढ़ाई जाएगी। आठवीं कक्षा से आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का कोर्स शुरु हो जाएगा।

वर्तमान में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के क्षेत्र में भारत में 4000 से ज्यादा नौकरियां रिक्त हैं। भारत सरकार के एक अनुमान के अनुसार 2020 तक भारत में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के क्षेत्र में 2 लाख से अधिक युवाओं की भर्ती की जाएगी। ये नौकरियां न केवल भारत सरकार वरन गूगल, फेसबुक, एमेजन, फ्लिपकार्ट, उबर जैसी कंपनियों में होंगी।

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के क्षेत्र में सैलेरी पैकेज की शुरुआत सालाना 74,173 US$ (लगभग 52 लाख रुपए) से होती है और दो से तीन वर्षीय अनुभवी इंजीनियर्स को 144,124 US$ (लगभग एक करोड़ रुपए) तक का पैकेज मिलता है।

Show More
सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned