लॉटरी पद्धति से जरूरतमंद बच्चों को निजी स्कूलों में मिलेगा प्रवेश

कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों को मिलेगी प्राथमिकता

By: Mangal Singh Thakur

Published: 14 Jun 2021, 04:01 PM IST

मंडला. शिक्षा का अधिकार के तहत नए सत्र 2021-22 के लिए निजी स्कूलों में पहली कक्षा से निशुल्क प्रवेश की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून निर्धारित की गई है। इस प्रक्रिया में इस बार कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों को ऑनलाइन प्रवेश में प्राथमिकता दी जाएगी। 2020 में कोरोना काल के चलते शैक्षणिक कामकाज ठप्प रहा था। अब कोरोना की दूसरी लहर थमने के बाद शासन के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने आगामी सत्र को लेकर शिक्षा का अधिकार आरटीई की प्रक्रिया शुरू की है। वर्तमान में जिले में लगभग 130 निजी स्कूलों की 25 प्रतिशत सीटें लॉक हो चुकी है। कुछ और स्कूलों से अनुबंध की प्रक्रिया जारी है। इसमें पात्रतानुसार निजी स्कूलों में निशुल्क प्रवेश के लिए आवेदकों का चयन, ऑनलाइन लॉटरी के माध्यम से 6 जुलाई 2021 को किया जाएगा। इस प्रक्रिया में कोविड-19 से अभिभावक की मौत की वजह से अनाथ हुए बच्चों को ऑनलाइन लॉटरी में प्राथमिकता दी जाएगी।


पालक इसका विशेष ध्यान दें
30 जून को पंजीयन की अंतिम तिथि है। इसके तहत वंचित समूह व कमजोर वर्ग के आवेदक अपना आवेदन ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से 30 जून तक जमा कर पंजीयन करा सकेंगे। फार्म के साथ भी पात्रता संबंधित कोई भी एक दस्तावेज अपलोड करना होगा। ऑनलाइन आवेदन के बाद आवेदकों को इसी अवधि में दस्तावेजों का सत्यापन संबंधित संकुल केंद्र वाले स्कूल में अधिकृत सत्यापनकर्ता अधिकारी से करवाना होगा। आरटीई में निशुल्क प्रवेश के लिए आवेदक ने जिस केटेगरी या निवास क्षेत्र के माध्यम से प्रवेश चाहा हैं, उसका सत्यापन मूल दस्तावेजों से किया जाएगा। लॉटरी के पूर्व ही दस्तावेज सत्यापन हो जाने से आवेदक को स्कूल आवंटित होने के बाद दस्तावेजों की त्रुटि से प्रवेश निरस्त होने की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।


ये योग्यता हैं जरुरी
नर्सरी, केजी और केजी 2 कक्षाओं में प्रवेश के लिए न्यूनतम आयु 3 से 5 वर्ष और कक्षा 1 में प्रवेश के लिए न्यूनतम आयु 5 वर्ष से अधिकतम 7 वर्ष तक निर्धारित की गई है। आयु के संंबंध में मूल प्रति से मिलान न करने की स्थिति या मूल प्रति प्रस्तुत न करने की स्थिति में आवेदक को अपात्र माना जाएगा। सत्र 2021-22 में प्रवेश के लिए आवेदक की आयु की गणना 16 जून 2021 की स्थिति में की जाएगी। आवेदक द्वारा जन्म प्रमाण पत्र में अंकित तिथि ही ऑनलाइन आवेदन में दर्ज की जाए।


मोबाइल पर मिल जाएगी सीट आवंटन की सूचना
निशुल्क प्रवेश योजना के तहत 6 जुलाई को पारदर्शी तरीके से ऑनलाइन लॉटरी के माध्यम से छात्रों को निजी स्कूलों में सीट आवंटित की जाएगी। लॉटरी प्रक्रिया के बाद आवंटित सीट की जानकारी आवेदक के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर मैसेज के माध्यम से दी जाएगी। साथ ही पोर्टल पर सूची देखी जा सकेगी।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned